जो देश जितने अधिक बहुराष्ट्रीय कंपनी पैदा करता है, आर्थिक रूप से वह उतना ही अधिक शसक्त बनता है| आइये जानते हैं कुछ ऐसी बहुराष्ट्रीय कंपनी के बारे में जिनका उदय भारत में हुआ|

इस सूची में कुछ कम्पनीयों की जगह उनके स्वामित्व वाले समूह का भी उपयोग किया गया है, जैसे टाटा व महिंद्रा समूह क्यूंकि इन समूहों की एक से अधिक अन्तराष्ट्रीय ब्रांड हैं| सूची में वो कंपनी शामिल की गयी हैं, जिनका व्यापार बहु देशों में फैला हुआ है|

  1. जोमाटो Zomato

    जोमाटो 2008 में दीपइंदर गोयल और पंकज चड्ढा द्वारा स्थापित एक भारतीय रेस्तरां एग्रीगेटर और फूड डिलीवरी स्टार्ट है। जोमाटो चुनिंदा शहरों में पार्टनर रेस्तरां से रेस्तरां की जानकारी, मेनू और उपयोगकर्ता-समीक्षा और साथ ही भोजन वितरण विकल्प प्रदान करता है। जोमाटो ने COVID-19 के प्रकोप के बीच किराने की डिलीवरी भी शुरू की। 2019 तक, यह सेवा 24 देशों और 10,000 से अधिक शहरों में उपलब्ध है।

    Read More

  2. वेदांता रिसोर्सेज़ Vedanta Resources

    वेदांत रिसोर्सेज लिमिटेड एक वैश्विक विविध धातु और खनन कंपनी है। यह भारत में सबसे बड़ी खनन और अलौह धातु कंपनी है और तीन देशों में ऑस्ट्रेलिया और ज़ाम्बिया और तेल और गैस संचालन में खनन कार्य है।

    Read More

  3. तेल एवं प्राकृतिक गैस निगम लिमिटेड

    ऑयल एण्ड नैचुरल गैस कॉर्पोरेशन लिमिटेड (ओएनजीसी) 23 जून 1993 से प्रारंभ हुई एक भारतीय सार्वजनिक क्षेत्र की पेट्रोलियम कंपनी है। इसे फॉर्च्यून ग्लोबल 500 द्वारा 335 वें स्थान पर रखा गया है। यह भारत मे कच्चे तेल के कुल उत्पादन मे 77% और गैस के उत्पादन मे 81% का योगदान करती है। यह सार्वजनिक क्षेत्र की सबसे अधिक लाभ अर्जित करने वाली कंपनी है। इसे 14 अगस्त 1956 को एक आयोग के रूप में स्थापित किया गया था। इस कंपनी में भारत सरकार की कुल इक्विटी हिस्सेदारी 74.14% है। ओएनजीसी कच्चे तेल के अन्वेषण और उत्पादन गतिविधियों में संलिप्त है। इसकी हाइड्रोकार्बन के अन्वेषण और उत्पादन गतिविधियों भारत के 26 तलछटी बेसिनों में चल रही हैं। यह भारत के कच्चे तेल की कुल आवश्यकता का लगभग 30% उत्पादन करती है। इसके स्वामित्व मे एक 11000 किलोमीटर लम्बी पाइपलाइन है जिसका परिचालन यह स्वंय करती है। मार्च 2007 तक यह मार्केट कैप के संदर्भ में यह भारत की सबसे बड़ी कंपनी थी।

    ओएनजीसी की स्थापना 14 अगस्त 1956 को भारत सरकार द्वारा की गई थी। यह भारत के 26 तलछटी घाटियों में हाइड्रोकार्बन की खोज और दोहन के लिए शामिल है, और देश में 11,000 किलोमीटर से अधिक पाइपलाइनों का मालिक है और इसका संचालन करता है। इसकी अंतर्राष्ट्रीय सहायक ओएनजीसी विदेश में वर्तमान में 17 देशों में परियोजनाएं हैं।

    Read More

  4. आई. टी.सी. लिमिटेड (पूर्व नाम: इम्पीरियल टोबैको कंपनी), भारत में एक तंबाकू कंपनी है। 1910 में अंग्रेजी तंबाकू कंपनी इम्पीरियल ने इसका गठन किया था। इसका टर्न ओवर $ 4.75 बिलियन है। यह भारत की निजी कंपनियों में कर-पूर्व लाभ की दृष्टि से दूसरे स्थान पर आती है। 2013 के अनुसार इसके लाभ का 30.54% हिस्सा इम्पीरियल टोबैको के पास है।

    आईटीसी लिमिटेड एक भारतीय बहुराष्ट्रीय समूह की कंपनी है जिसका मुख्यालय कोलकाता, पश्चिम बंगाल में है। 1910 में 'इंपीरियल टोबैको कंपनी ऑफ इंडिया लिमिटेड' के रूप में स्थापित, कंपनी का नाम बदलकर 1970 में 'इंडिया टोबैको कंपनी लिमिटेड' कर दिया गया और बाद में 'आई.टी.सी.' लिमिटेड '1974 में। कंपनी के नाम को' ITC लिमिटेड 'के रूप में नामांकित करने के लिए सितंबर 2001 में हटा दिए गए, जहां' ITC 'अब एक इनिशियलिज़्म नहीं होगा। कंपनी ने 2010 में 100 साल पूरे किए और 2012–13 तक, इसका वार्षिक कारोबार US $ 8.31 बिलियन और बाजार पूंजीकरण US $ 52 बिलियन था। यह भारत भर में 60 से अधिक स्थानों पर 30,000 से अधिक लोगों को रोजगार देता है और फोर्ब्स 2000 की सूची का हिस्सा है।

    Read More

  5. इन्फोसिस लिमिटेड, एक बहुराष्ट्रीय सूचना प्रौद्योगिकी सेवा कंपनी मुख्यालय है जो बेंगलुरु, भारत में स्थित है। यह एक भारत की सबसे बड़ी आईटी कंपनियों में से एक है जिसके पास 30 जून 2008 को (सहायकों सहित) 94,379 से अधिक पेशेवर हैं। इसके भारत में 9 विकास केन्द्र हैं और दुनिया भर में 30 से अधिक कार्यालय हैं। वित्तीय वर्ष 2007-2008 के लिए इसका वार्षिक राजस्व US$4 बिलियन से अधिक है, इसकी बाजार पूंजी US$30 बिलियन से अधिक है।

    इन्फोसिस की स्थापना 2 जुलाई, 1981 को पुणे में एन आर नारायण मूर्ति के द्वारा की गई। इनके साथ और छह अन्य लोग थे: नंदन निलेकानी, एनएसराघवन, क्रिस गोपालकृष्णन, एस डी.शिबुलाल, के दिनेश और अशोक अरोड़ा, राघवन के साथ आधिकारिक तौर पर कंपनी के पहले कर्मचारी.मूर्ति ने अपनी पत्नी सुधा मूर्ति (Sudha Murthy) से 10,000 आई एन आर लेकर कम्पनी की शुरुआत की। कम्पनी की शुरुआत उत्तर मध्य मुंबई में माटुंगा में राघवन के घर में "इन्फोसिस कंसल्टेंट्स प्रा लि" के रूप में हुई जो एक पंजीकृत कार्यालय था। 2001 में इसे बिजनेस टुडे के द्वारा "भारत के सर्वश्रेष्ठ नियोक्ता " की श्रेणी में रखा गया। इन्फोसिस ने वर्ष 2003, 2004 और 2005, के लिए ग्लोबल मेक (सर्वाधिक प्रशंसित ज्ञान एंटरप्राइजेज) पुरस्कार जीता। यह पुरस्कार जीतने वाली यह एकमात्र कम्पनी बन गई और इसके लिए इसे ग्लोबल हॉल ऑफ फेम में प्रोत्साहित किया गया।

    Read More

  6. Sun Pharmaceutical Industries Limited

    सन फार्मास्युटिकल इंडस्ट्रीज लिमिटेड, एक भारतीय बहुराष्ट्रीय दवा कंपनी है, जिसका मुख्यालय मुंबई, महाराष्ट्र में है जो मुख्य रूप से भारत और संयुक्त राज्य अमेरिका में फार्मास्युटिकल फॉर्मुलेशन और सक्रिय फार्मास्युटिकल अवयव (एपीआई) बनाती है और बेचती है। कंपनी विभिन्न चिकित्सीय क्षेत्रों, जैसे कि कार्डियोलॉजी, मनोचिकित्सा, न्यूरोलॉजी, गैस्ट्रोएंटरोलॉजी और डायबेटोलॉजी में योग प्रस्तुत करती है। यह वारफारिन, कार्बामाज़ेपाइन, एटोडोलैक, और क्लोराज़ेपेट जैसे एपीआई और साथ ही साथ एंटी-कैंसर, स्टेरॉयड, पेप्टाइड्स, सेक्स हार्मोन और नियंत्रित पदार्थ भी प्रदान करता है।

    सन फार्मास्युटिकल्स की स्थापना श्री दिलीप शांघवी द्वारा 1983 में वापी, गुजरात में मनोचिकित्सा बीमारियों के इलाज के लिए पांच उत्पादों के साथ की गई थी। कार्डियोलॉजी उत्पादों को 1987 में गैस्ट्रोएंटरोलॉजी उत्पादों द्वारा 1989 में पेश किया गया था। आज, यह भारत में सबसे बड़ी क्रॉनिक प्रिस्क्रिप्शन कंपनी है और मनोरोग, न्यूरोलॉजी, कार्डियोलॉजी, आर्थोपेडिक्स, नेत्र विज्ञान, गैस्ट्रोएंटरोलॉजी और नेफ्रोलॉजी में एक मार्केट लीडर है। रैनबैक्सी के 2014 के अधिग्रहण ने कंपनी को भारत में सबसे बड़ी फार्मा कंपनी, अमेरिका में सबसे बड़ी भारतीय फार्मा कंपनी, और वैश्विक रूप से 5 वीं सबसे बड़ी विशिष्ट जेनेरिक कंपनी बना दिया है।

    Read More

  7. SBI

    स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, भारत की सबसे बड़ी एवं सबसे पुरानी बैंक है। 2 जून 1806 को कलकत्ता में 'बैंक ऑफ़ कलकत्ता' की स्थापना हुई थी। तीन वर्षों के पश्चात इसको चार्टर मिला तथा इसका पुनर्गठन बैंक ऑफ़ बंगाल के रूप में 2 जनवरी 1809 को हुआ। यह अपने तरह का अनोखा बैंक था जो स्टॉक पर ब्रिटिश भारत तथा बंगाल सरकार द्वारा चलाया जाता था। बैंक ऑफ़ बॉम्बे तथा बैंक ऑफ़ मद्रास की शुरुआत बाद में हुई। ये तीनों बैंक आधुनिक भारत के प्रमुख बैंक तब तक बने रहे जब तक कि इनका विलय इंपिरियल बैंक ऑफ़ इंडिया में 28 जनवरी 1921 को नहीं कर दिया गया। सन 1941 में पहली पंचवर्षीय योजना की नींव डाली गई जिसमें गांवों के विकास पर जोर डाला गया था। इस समय तक इंपिरियल बैंक ऑफ़ इंडिया का कारोबार सिर्फ़ शहरों तक सीमित था। भारतीय स्टेट बैंक, जिसका मुख्यालय मुंबई, महाराष्ट्र में है। 2019 की दुनिया के सबसे बड़े कारपोरेशन की फॉर्च्यून ग्लोबल 500 सूची में एसबीआई को 236 वें स्थान पर रखा गया है।

    Read More

  8. एशियन पेंट्स  Asian Paints
    एशियन पेंट्स लिमिटेड एक भारतीय बहुराष्ट्रीय कम्पनी है जिसका मुख्यालय मुंबई, महाराष्ट्र में है। ये कम्पनी, रंग, घर की सजावट, फिटिंग से संबंधित उत्पादों और संबंधित सेवाएं प्रदान करने, निर्माण, बिक्री और वितरण के व्यवसाय में लगी हुई है। एशियन पेंट्स भारत की सबसे बडी और एशिया की चौथी सबसे बडी रंगो की कम्पनी है। 2015 के अनुसार , भारतीय रंग उद्योग में 54॰1% के साथ इसका सबसे बड़ा बाजार हिस्सा है।

    Read More

  9. आदित्य बिड़ला समूह Aditya Birla Group
    आदित्य बिड़ला समूह भारत के साथ थाईलैंड, दुबई, सिंगापुर,, म्यांमार, लाओस, इंडोनेशिया, फिलीपींस, मिस्र, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया, चीन, अमरीका, ब्रिटेन, जर्मनी, हंगरी, ब्राजील, इटली, फ्रांस, लक्समबर्ग, स्विट्जरलैंड, बांग्लादेश, मलेशिया, वियतनाम और कोरिया समेत 25 देशों में कार्यरत मुंबई में स्‍थित मुख्‍यालय वाला एक बहुराष्ट्रीय सांगठनिक निगम है।आदित्य बिड़ला समूह यूएस 30 बिलियन यूएस$ का संगठन है जो अपने राजस्‍व का 60% भारत के बाहर से प्राप्त करता है। समूह स्‍वयं द्वारा संचालित सभी औधोगिक क्षेत्रों में प्रमुख खिलाड़ी है। बिरला समूह हेवेट-इकॉनामिक टाइम्‍स और वॉल स्‍ट्रीट जर्नल स्‍टडी 2007 के द्वारा एशिया में शीर्ष 20 के बीच भारत के श्रेष्ठ नियोक्‍ता के रूप में घोषित किया गया है। समूह की उत्पत्ति भारत के अग्रणी उद्योगपति घनश्‍याम दास बिरला के द्वारा पहली बार स्‍थापित संगठन में निहित है।

    Read More

  10. एअर इंडिया Air India
    एअर इंडिया (Air India) भारत की ध्वज-वाहक विमान सेवा है। यह भारत सरकार की चलाई हुई दो विमानसेवाओं में से एक है (दूसरी है इंडियन एअरलाईन्स जिसका एयर इंडिया में विलय हो चुका है)।
    एअर इंडिया का कार्यवाहक केन्द्र मुंबई के छत्रपति शिवाजी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा है। यहाँ से एयर इंडिया की उड़ानें विश्व में 39 गन्तव्य स्थान तथा भारत में 12 गन्तव्य स्थानों तक जाती हैं।

    Read More

  11. अपोलो टायर्स Apollo Tyres
    अपोलो टायर्स लिमिटेड दुनिया की 7 वीं सबसे बड़ी टायर निर्माता कंपनी है जिसका मार्च 2018 में समेकित राजस्व ₹172.76 बिलियन (US $ 2.46 बिलियन) रहा। इसे 1972 में निगमित किया गया था। इसका पहला संयंत्र पेरम्बरा, त्रिशूर, केरल, भारत में चालू किया गया था। कंपनी की अब भारत में चार , नीदरलैंड में एक और हंगरी में एक विनिर्माण इकाइयाँ हैं। इसका भारत में लगभग 5,000 डीलरशिप का नेटवर्क है, जिनमें से 2,500 से अधिक विशेष दुकानें (exclusive outlets) हैं।
    इसे भारत से 69%, यूरोप से 26% और अन्य भौगोलिक क्षेत्रों से 5% राजस्व मिलता है।मार्च 2016 में अपोलो ने अनुबंध निर्माण के साथ टू-व्हीलर टायर खंड में प्रवेश की घोषणा की। नवंबर 2016 में, कंपनी ने आंध्र प्रदेश सरकार के साथ आंध्र प्रदेश में एक नया कारखाना स्थापित तथा दोपहिया और पिक-अप ट्रकों के लिए टायर बनाने के लिए एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए।यूरोप में कंपनी के दूसरे संयंत्र का उद्घाटन अप्रैल 2017 में हंगरी के प्रधान मंत्री, विक्टर ओरबान द्वारा किया गया था।अपोलो टायर्स ने मलेशिया में अपना पहला सेवा केंद्र खोला है।

    Read More

  12. आर्सेलर मित्तल ArcelorMittal
    आर्सेलर मित्तल एक वैश्विक इस्पात कंपनी है जिसका मुख्यालय एवेन्यू डी ला लिबेर्टॅ, लक्ज़मबर्ग में स्थित है। यह विश्व में सबसे बड़ी इस्पात उत्पादक कंपनी है और मोटरवाहन, निर्माण, घरेलू उपकरणों और पैकेजिंग में उपयोग के लिए इस्पात में अग्रणी है। यह कच्चे माल की आपूर्ति के लिये विस्तृत आपूर्ति व्यवस्था और व्यापक वितरण नेटवर्क संचालित करती है। कंपनी की स्थापना 2006 में आर्सेलर और मित्तल इस्पात के विलयन से हुआ था। यह 2010 के फॉर्च्यून ग्लोबल 500 की सूची में 99 स्थान पर है

    Read More

  13. अरविंद मिल्स लिमिटेड Arvind Mills Limited

    अरविंद लिमिटेड (पूर्व में अरविंद मिल्स) एक कपड़ा निर्माता और लालभाई समूह की प्रमुख कंपनी है। इसका मुख्यालय नरोदा, अहमदाबाद, गुजरात, भारत में है, और इसकी सेंटेज (कलोल के पास) में इकाइयाँ हैं। कंपनी कॉटन शर्टिंग, डेनिम, निट और बॉटमवेट (खाकी) फैब्रिक बनाती है। 2011 में एडवांस्ड मटेरियल डिवीजन शुरू करने पर यह हाल ही में तकनीकी वस्त्रों में शामिल हो गया है। यह भारत का सबसे बड़ा डेनिम निर्माता है

    संजयभाई लालभाई अरविंद और लालभाई समूह के वर्तमान अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक हैं। 1980 के दशक की शुरुआत में, उन्होंने 'रेनो-विज़न' का नेतृत्व किया, जिसके द्वारा कंपनी ने घरेलू बाजार में डेनिम को लाया, इस प्रकार भारत में जीन्स क्रांति शुरू हुई। आज यह फ्लाइंग मशीन, न्यूपोर्ट और एक्सेलिबुर जैसे अपने स्वयं के ब्रांडों और अपने देशव्यापी खुदरा नेटवर्क के माध्यम से एरो, टॉमी हिलफिगर, और केल्विन क्लेन जैसे लाइसेंस प्राप्त अंतरराष्ट्रीय ब्रांडों को बेचता है। अरविंद तीन कपड़े और सामान रिटेल चेन, अरविंद स्टोर, अनलिमिटेड और मेगामार्ट भी चलाता है, जो कंपनी के ब्रांड का हिस्सा है।

    Read More

  14. अशोक लेलैंड Ashok Leyland
    अशोल लीलैंड, भारतीय ऑटोमोबाइल उत्पादक कंपनी है, जिसका मुख्यालय चेन्नई में स्थित है । सन् 1948 में इसकी स्थापना रघुनंदन सरन द्वारा की गई । यह भारत की दूसरी सबसे बड़ी कॉमर्शियल वाहन बनाने वाली कंपनी है एवं बसों के निर्माण में दुनिया की चौथी एवं ट्रकों के निर्माण में दुनिया की शीर्ष 16 कंपनियों में से एक है ।

    Read More

  15. अरबिंदो फार्मा लिमिटेड Aurobindo Pharma Limited

    अरबिंदो फार्मा लिमिटेड एक दवा निर्माण कंपनी है, जिसका मुख्यालय भारत के हैदराबाद शहर में स्थित है। कंपनी जेनेरिक फार्मास्यूटिकल्स और सक्रिय दवा सामग्री बनाती है। कंपनी की गतिविधि के क्षेत्र में छह प्रमुख चिकित्सीय / उत्पाद क्षेत्र शामिल हैं: एंटीबायोटिक्स, एंटी-रेट्रोवायरल, कार्डियोवस्कुलर उत्पाद, केंद्रीय तंत्रिका तंत्र उत्पाद, गैस्ट्रोएंटेरोलॉजिकल और एंटी-एलर्जी। कंपनी 125 से अधिक देशों में इन उत्पादों का विपणन करती है। इसके विपणन भागीदारों में एस्ट्राजेनेका और फाइजर शामिल हैं।

    Read More

  16. भारत फोर्ज Bharat Forge

    भारत फोर्ज लिमिटेड (बीएफएल) एक पुणे स्थित भारतीय बहुराष्ट्रीय कंपनी है जो ऑटोमोटिव्स, पावर, ऑयल एंड गैस, कंस्ट्रक्शन एंड माइनिंग, लोकोमोटिव, समुद्री और एयरोस्पेस उद्योगों में शामिल है।

    कंपनी अब रक्षा क्षेत्र में प्रवेश कर चुकी है और एक घटक निर्माता से पूर्ण उत्पाद निर्माता के रूप में आगे बढ़ रही है।

    कंपनी की स्थापना 1961 में डॉ। नीलकंठराव ए। कल्याणी ने की थी। कंपनी के वर्तमान अध्यक्ष उनके पुत्र बाबा कल्याणी हैं। यह कल्याणी समूह का हिस्सा है, जो कि 10,000 कर्मियों की शक्ति वाले वैश्विक कार्यबल के साथ 2.5 बिलियन अमेरिकी डॉलर का समूह है। बाबा कल्याणी के पुत्र अमित कल्याणी कंपनी के कार्यकारी निदेशक हैं।

    Read More

  17. भारत पेट्रोलियम Bharat Petroleum
    भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड एक फॉर्च्यून 500 कंपनी (2008 में 287 वें स्थान पर) है, जो भारत सरकार की तीसरी सबसे बडी़ एकीकृत तेल शोधन और विपणन करने वाली सार्वजनिक क्षेत्र की कम्पनी है। भारत पेट्रोलियम को सरकार द्वारा नवरत्न का दर्जा प्राप्त है। भारत मे इसका पेट्रोलियम उत्पादों के विपणन मे कुल हिस्सा --- % और तेल शोधन मे ---% है।

    Read More

  18. भारती एयरटेल Bharti Airtel

    भारती एयरटेल लिमिटेड, जिसे एयरटेल के रूप में भी जाना जाता है, एक भारतीय वैश्विक दूरसंचार सेवा कंपनी है जो नई दिल्ली, दिल्ली एनसीटी, भारत में स्थित है। यह दक्षिण एशिया और अफ्रीका में 18 देशों में संचालित होता है, और चैनल द्वीप समूह में भी। एयरटेल परिचालन के देश के आधार पर जीएसएम, 3 जी, 4 जी एलटीई, 4 जी + मोबाइल सेवाएं, फिक्स्ड लाइन ब्रॉडबैंड और वॉयस सेवाएं प्रदान करता है। एयरटेल ने अपनी VoLTE तकनीक को सभी भारतीय टेलीकॉम सर्किलों में उतार दिया था। [8] यह भारत में दूसरा सबसे बड़ा मोबाइल नेटवर्क ऑपरेटर है और 423.28 मिलियन से अधिक ग्राहकों के साथ दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा मोबाइल नेटवर्क ऑपरेटर है। मिलवर्ड ब्राउन और डब्ल्यूपीपी पीएलसी द्वारा एयरटेल को पहले ब्रांडज रैंकिंग में भारत का दूसरा सबसे मूल्यवान ब्रांड बताया गया।

    Read More

  19. बीरा 91 Bira 91

    बीरा 91, बी 9 बेवरेजेस प्राइवेट द्वारा निर्मित एक शिल्प बीयर ब्रांड है। लिमिटेड। इसे 2015 में लॉन्च किया गया था। कंपनी की पहली शराब की भठ्ठी इकाई बेल्जियम के फ्लैंडर्स क्षेत्र में स्थित थी, जहां फ्रांस, बेल्जियम, हिमालय और बवेरियन फार्म से सामग्री के साथ बीयर बनाने के अनुबंध के लिए एक शिल्प डिस्टिलरी का इस्तेमाल किया गया था और बीयर भारत में आयात की गई थी। शुरुआती सफलता के बाद, कंपनी ने बाद में उसी सामग्रियों के साथ भारत में बीयर का निर्माण शुरू किया। गेहूं, जौ और हॉप्स से निर्मित, बीयर ड्राफ्ट, 330 मि.ली., 650 मि.ली. बोतलों और 500 मिली के डोंस में उपलब्ध है। बीरा 10 मिलियन डॉलर का कर्ज फंडिंग में बढ़ाता है, जिससे उत्पादन में तेजी आती है। उम्मीद है कि कंपनी अपनी मौजूदा 400,000 मामलों से लगभग 1.7 मिलियन मामलों में अपनी उत्पादन क्षमता को बढ़ाने के लिए आय का उपयोग करेगी, सूत्रों ने ईटी को बताया, एक महत्वपूर्ण राशि के साथ ब्रांड निर्माण की ओर भी।

    Read More

  20. कैफे कॉफी डे Café Coffee Day

    कैफे कॉफी डे (सीसीडी) एक भारतीय कैफे श्रृंखला है। यह कॉफी डे एंटरप्राइजेज लिमिटेड की सहायक कंपनी है। कॉफी डे छह देशों में सालाना 1.6 बिलियन कप कॉफी परोसता है। अंतर्राष्ट्रीय रूप से, सीसीडी ऑस्ट्रिया, चेक गणराज्य, मलेशिया, नेपाल और मिस्र में मौजूद हैं।

    कैफ़े कॉफ़ी डे ग्लोबल लिमिटेड कंपनी एक चिक्कमगलुरु-आधारित व्यवसाय है जो 20,000 एकड़ के अपने स्वयं के सम्पदा में कॉफी उगाता है। यह एशिया में अरबी फलियों का सबसे बड़ा उत्पादक है, जो अमेरिका, यूरोप और जापान सहित विभिन्न देशों को निर्यात करता है।

    Read More

  21. डाबर Dabur
    डाबर इण्डिया लिमिटेड भारत में स्वास्थ्य, व्यक्तिगत ध्यान एवं भोज्य उत्पादों के क्षेत्र में निवेश करने वाली चौथी सबसे बड़ी कम्पनी है। डाबर का च्यवनप्राश एवं हाजमोला बहुत ही लोकप्रिय है। 1884 में बर्मन परिवार ने जब एक छोटी आयुर्वेदिक दवा कंपनी के रूप में शुरुआत की थी तो 125 साल बाद यह नंबर वन कंपनी बन जाएगी किसी ने सोचा नहीं होगा। कोलकाता के बर्मन परिवार की कंपनी डाबर इंडिया लिमिटेड ने अब पूरी दुनिया में अपना परचम लहरा दिया है। आयुर्वेदिक व प्राकृतिक चिकित्सा के क्षेत्र में 125 साल की हो गई इस कंपनी का अब कोई सानी नहीं है। आज वह देश का हर्बल और नेचुरल प्रॉडक्ट की सबसे बड़ी पेशेवर कंपनी बन गई है।

    Read More

  22. डॉ. रेड्डीज लेबोरेटरीज Dr. Reddy's Laboratories
    डॉ॰ रेड्डीज लेबोरेटरीज लिमिटेड (Dr. Reddy's Laboratories Ltd.), जिसे डॉ रेड्डीज के नाम से ट्रेड किया जाता है, आज भारत की औषधि कंपनी है। इसकी स्थापना 1984 में डॉक्टर के. अंजी रेड्डी ने की थी। इसके पूर्व डॉ॰ अंजी रेड्डी भारत सरकार के उपक्रम इंडियन ड्रग्स एंड फार्मास्यूटिकल्स लिमिटेड में कार्यरत थे। डॉ॰ रेड्डीज अनेकों प्रकार की दवायें बना कर देश-विदेश में विपणन करती है। कंपनी के पास आज 190 से अधिक दवाएं, दवाओं के निर्माण की करीब साठ सक्रिय सामग्रियां, नैदानिक उपकरण तथा सघन चिकित्सा और बायोटेक्नोलॉजी उत्पाद मौजूद हैं।

    Read More

  23. आयशर मोटर्स Eicher Motors

    आयशर मोटर्स लिमिटेड (ईएमएल) मोटरसाइकिल और वाणिज्यिक वाहनों का एक भारतीय निर्माता है। आयशर मिडलवेट मोटरसाइकिल बनाने वाली कंपनी रॉयल एनफील्ड की मूल कंपनी है।

    मोटरसाइकिलों के अलावा, आयशर का स्वीडन के वोल्वो ट्रकों - वोल्वो आयशर कमर्शियल व्हीकल्स लिमिटेड (VECV) के साथ एक संयुक्त उद्यम है।

    आयशर मोटर्स भारत में एक वाणिज्यिक वाहन निर्माता है। कंपनी की उत्पत्ति 1948 से पहले की है, जब Goodearth कंपनी को आयातित ट्रैक्टरों के वितरण और सेवा के लिए स्थापित किया गया था। 1959 में आयशर ट्रैक्टर कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया प्राइवेट लिमिटेड की स्थापना हुई, जो कि एक जर्मन ट्रैक्टर निर्माता, आयशर ट्रैक्टर कंपनी के साथ संयुक्त रूप से थी। 1965 से, भारत में आयशर पूरी तरह से भारतीय शेयरधारकों के स्वामित्व में है। जर्मन आयशर ट्रैक्टर आंशिक रूप से मैसी-फर्ग्यूसन के पास 1970 से था, जब उन्होंने 30% खरीदा था। मैसी-फर्ग्यूसन ने 1973 में जर्मन कंपनी को खरीदा।

    Read More

  24. फ्यूचर ग्रुप Future Group

    फ्यूचर ग्रुप एक भारतीय समूह कंपनी है, जिसकी स्थापना किशोर बियानी, [1] का मुख्यालय मुंबई, महाराष्ट्र, भारत में हुई है। कंपनी को भारतीय खुदरा और फैशन क्षेत्रों में एक महत्वपूर्ण प्रमुखता के लिए जाना जाता है, जिसमें बिग बाज़ार और फूड बाज़ार जैसी लोकप्रिय सुपरमार्केट चेन, ब्रांड फैक्टरी, सेंट्रल जैसे लाइफस्टाइल स्टोर आदि हैं। समूह में एकीकृत खाद्य पदार्थों और एफएमसीजी विनिर्माण में भी उल्लेखनीय उपस्थिति है। क्षेत्रों। फ्यूचर रिटेल लिमिटेड और फ्यूचर लाइफस्टाइल फैशन लिमिटेड, फ्यूचर ग्रुप की दो ऑपरेटिंग कंपनियां बीएसई में सूचीबद्ध शीर्ष खुदरा कंपनियों में से हैं, जो संपत्ति के संबंध में, और एनएसई में बाजार पूंजीकरण के संबंध में हैं।

    Read More

  25. ग्लेनमार्क फार्मास्यूटिकल्स Glenmark Pharmaceuticals
    ग्लेनमार्क फार्मास्यूटिकल्स मुंबई, भारत में मुख्यालय वाली एक फार्मास्युटिकल कंपनी है जिसकी स्थापना 1977 में ग्रेसीस सल्दान्हा ने एक सामान्य दवा और सक्रिय दवा घटक निर्माता के रूप में की थी; उन्होंने अपने दो बेटों के नाम पर कंपनी का नाम रखा। कंपनी ने शुरू में भारत, रूस और अफ्रीका में अपने उत्पाद बेचे। कंपनी 1999 में भारत में सार्वजनिक हुई, और अपनी पहली शोध सुविधा के निर्माण के लिए कुछ आय का उपयोग किया। सल्दान्हा के बेटे ग्लेन ने 2001 में CEO के रूप में पदभार संभाला और प्राइसवाटरहाउसकूपर्स में काम करने के बाद भारत लौट आए। 2008 तक ग्लेनमार्क भारत की पांचवीं सबसे बड़ी दवा कंपनी थी।

    Read More

  26. एचसीएल टेक्नोलॉजीज लिमिटेड HCL Technologies


    एचसीएल टेक्नोलॉजीज लिमिटेड, एक भारतीय बहुराष्ट्रीय सूचना प्रौद्योगिकी (IT) सेवाएँ और परामर्श कंपनी है जिसका मुख्यालय नोएडा, उत्तर प्रदेश, भारत में है। यह एचसीएल एंटरप्राइज की सहायक कंपनी है। मूल रूप से एचसीएल का एक अनुसंधान और विकास प्रभाग, यह 1991 में एक स्वतंत्र कंपनी के रूप में उभरा जब एचसीएल ने सॉफ्टवेयर सेवा व्यवसाय में प्रवेश किया। [development] कंपनी के यूनाइटेड किंगडम, संयुक्त राज्य अमेरिका, फ्रांस और जर्मनी सहित 44 देशों में कार्यालय हैं, जिसमें R & D, "इनोवेशन लैब" और "डिलीवरी सेंटर" का दुनिया भर में नेटवर्क है, और 147,123 कर्मचारियों और उसके ग्राहकों में फॉर्च्यून 500 के 250 और 650 शामिल हैं। ग्लोबल 2,000 कंपनियां।

    Read More

  27. हल्दीराम Haldiram's
    हल्दीराम भारत का प्रमुख मिठाई एवं अल्पाहार (स्नैक्स) निर्माता कम्पनी है। यह मूलतः नागपुर (महाराष्ट्र) से आरम्भ हुई और वर्तमान में नागपुर्म कोलकाता, नई दिल्ली तथा बीकानेर में इसकी निर्माण इकाइयाँ हैं। हल्दीराम की अपनी स्वयं की रिटेल चेन स्टोर के अलावा नागपुर, कोलकाता, पटना, लखनऊ, नोएडा और दिल्ली में रेस्तारेन्त हैं। वर्तमान समय में हल्दीराम के उत्पाद विश्व के अनेक देशों में निर्यात किए जाते हैं।

    Read More

  28. हीरो मोटोकॉर्प Hero MotoCorp

    हीरो मोटोकॉर्प लिमिटेड, पूर्व में हीरो होंडा, एक भारतीय बहुराष्ट्रीय मोटरसाइकिल और स्कूटर निर्माता है जो नई दिल्ली, भारत में स्थित है। कंपनी दुनिया में सबसे बड़ी दोपहिया निर्माता है, और भारत में भी, जहाँ दोपहिया श्रेणी में इसकी लगभग 46% बाजार हिस्सेदारी है। 200 विश्व की सबसे सम्मानित कंपनियों की 2006 की फोर्ब्स सूची में हीरो होंडा मोटर्स को # 108 पर स्थान दिया गया था। 31 मार्च 2013 को, कंपनी का बाजार पूंजीकरण the 30,800 करोड़ था (2019 में billion 420 बिलियन या US $ 5.9 बिलियन के बराबर)।

    Read More

  29. हाईडसिग्न Hidesign

    हाईडिजाईन, पांडिचेरी, भारत में स्थित एक चमड़े का सामान निर्माता है। 2018 में, कंपनी का 24 देशों में संचालन हुआ, जिसमें यूएसए, यूके, ऑस्ट्रेलिया, केन्या, यूएई, स्पेन, पुर्तगाल, न्यूजीलैंड और श्रीलंका शामिल हैं। Hidesign का चमड़े का सामान खंड 160 करोड़ राजस्व में योगदान देता है।

    कंपनी हैंडबैग, ब्रीफकेस, लैपटॉप बैग, यात्रा बैग, पर्स, सामान, बेल्ट, जैकेट, जूते, जूते और धूप का चश्मा सहित चमड़े के उत्पादों के निर्माता और बाज़ारिया है। इसमें 5 विनिर्माण सुविधाएं हैं:

    Read More

  30. हिंडाल्को इंडस्ट्रीज Hindalco Industries

    हिंडाल्को इंडस्ट्रीज लिमिटेड एक भारतीय एल्यूमीनियम और तांबा विनिर्माण कंपनी है, जो आदित्य बिड़ला समूह की सहायक कंपनी है। इसका मुख्यालय मुंबई, महाराष्ट्र, भारत में है। यह धातु व्यवसाय में फ्लैगशिप कंपनी है।

    कंपनी की वार्षिक बिक्री $ 15 बिलियन है और इसमें लगभग 20,000 लोग काम करते हैं। [3] यह फोर्ब्स ग्लोबल 2000 में 895 वीं रैंक पर सूचीबद्ध है। मई 2013 के अंत तक इसका बाजार पूंजीकरण 3.4 बिलियन अमेरिकी डॉलर था। हिंडाल्को दुनिया की सबसे बड़ी एल्यूमीनियम रोलिंग कंपनियों में से एक है और एशिया में प्राथमिक एल्यूमीनियम के सबसे बड़े उत्पादकों में से एक है।

    Read More

  31. हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड Hindustan Petroleum
    हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड एक फॉर्च्यून 500 कंपनी (2012 में 267 वें स्थान पर) है, जो भारत सरकार की दूसरी सबसे बड़ी एकीकृत तेल शोधन और विपणन करने वाली सार्वजनिक क्षेत्र की कम्पनी है। हिंदुस्तान पेट्रोलियम को सरकार द्वारा महारत्न श्रेणी में रखा गया है। भारत में इसका पेट्रोलियम उत्पादों के विपणन मे कुल योगदान 20.9% और तेल शोधन मे 10.3% है। इसके स्वामित्व मे दो तटीय तेल परिशोधन कारखाने (ऑयल रिफाईनरी) हैं। इन परिशोधिकाओं (रिफाईनरी) मे कई प्रकार के पेट्रोलियम उत्पाद जैसे इंधन तेल (फ्यूल ऑयल) और स्नेहक (ल्युब्रीकेंट) का निर्माण होता है।
    पश्चिमी तट पर स्थित मुंबई रिफाईनरी की क्षमता 8.5 एम.एम.टी.पी.ए तथा पूर्वी तट पर स्थित विशाखापत्तनम रिफाईनरी की क्षमता 8.33 एम.एम.टी.पी.ए है। कंपनी की मैंगलोर रिफाइनरी एंड पेट्रोकैमिकल्स लिमिटेड (एमआरपीएल) की अत्याधुनिक मंगलौर रिफाइनरी जिसकी क्षमता 11.3 एम.एम.टी.पी.ए है, हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड ने मित्तल एनर्जी समूह के साथ संयुक्त उद्यम एच एम ई एल में एक नयी तेल परिशोधिका गुरु गोबिंद सिंह रिफाइनरी को पंजाब के भटिंडा मे स्थापित किया है, जिसका लोकार्पण भारत के प्रधानमंत्री श्री मनमोहन सिंह ने 28 अप्रैल 2012 को किया।

    Read More

  32. इण्डियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड Indian Oil Corporation
    इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड (हिन्दी: भारतीय तेल निगम) एक फॉर्च्यून 500 कंपनी (2009 में 105 वें स्थान पर) है जो भारत सरकार की सबसे बडी़ एकीकृत तेल शोधन और विपणन करने वाली सार्वजनिक क्षेत्र की कम्पनी है। इंडियन ऑयल को सरकार द्वारा महारत्न का दर्जा प्राप्त है। भारत मे इसका पेट्रोलियम उत्पादों के विपणन मे कुल हिस्सा 47 % और तेल शोधन मे 40 % है। भारत की कुल 19 तेल परिशोधिकाओं मे से 10 इंडियन ऑयल के स्वामित्व के आधीन हैं।
    इंडियनऑयल भारत की अग्रणी राष्ट्रीय तेल कंपनी है और इसके व्यापारिक हित समस्त हाईड्रोकार्बन मूल्य श्रृंखला में व्याप्त हैं- जिसमें तेलशोधन, पाइपलाइन परिवहन और पेट्रोलियम उत्पादों के विपणन से लेकर कच्चे तेल और गैस की खोज तथा उत्पादन, प्राकृतिक गैस और पेट्रो रसायनों का विपणन शामिल है। फार्च्यून ‘ग्लोबल 500’ सूची में यह अग्रणी भारतीय निगमित कंपनी है जिसे वर्ष 2010 में 125वां स्थान दिया गया था।
    34,000 से अधिक सुदृढ़ कार्यबल के साथ, इंडियनऑयल द्वारा भारत की ऊर्जा मांग को पिछले पचास वर्षों से अधिक समय से पूरा करने में सहायता की जा रही है। भारत की ऊर्जा के निगमित विज़न के साथ, इंडियनऑयल द्वारा वर्ष 2009-10 के दौरान 2,71,074 करोड़ रुपये की कुल बिक्री और 10,221 करोड़ रुपये का लाभ अर्जित किया गया।
    इंडियनऑयल में, प्रचालनों को व्यवसाय आयामों अर्थात – तेलशोधन, पाइपलाइन, विपणन, अनुसंधान और विकास केंद्र तथा व्यवसाय विकास- ई एण्ड पी, पेट्रो रसायनों और प्राकृतिक गैस के साथ कार्यनीतिक रूप से संरचित किया जाता है। विकास के अगले चरण को प्राप्त करने के लिए, इंडियनऑयल वर्तमान में ऊर्ध्‍वाधर (वर्टिकल) एकीकरण के माध्यम से सुस्थापित मार्ग पर पूरे जोर शोर से आगे बढ़ रही है और अपने डाउनस्ट्रीम प्रचालनों के वैश्वीकरण के अलावा – तेल की खोज और उत्पादन (ई एण्ड पी) में अपस्ट्रीम तथा पेट्रो रसायनों में डाउनस्ट्रीम- और प्राकृतिक गैस विपणन और वैकल्पिक ऊर्जा में अपने सपनों को साकार करने में संलग्न है। श्री लंका, मारिशस तथा संयुक्त राज्य अमीरात (यूएई) में सहायक कंपनियों की स्थापना के बाद, साथ ही साथ इंडियनऑयल एशिया और अफ्रीका के ऊर्जा बाजारों में नए कारोबारी अवसरों की खोज भी कर रही है।

    Read More

  33. इनमोबी InMobi

    इनमोबी एक भारतीय वैश्विक मोबाइल विज्ञापन प्रौद्योगिकी कंपनी है जो बैंगलोर, भारत से बाहर आधारित है।इसका मोबाइल-पहला प्लेटफॉर्म ब्रांड, डेवलपर्स और प्रकाशकों को प्रासंगिक मोबाइल विज्ञापन के माध्यम से उपभोक्ताओं को जोड़ने की अनुमति देता है। कंपनी की स्थापना 2007 में नवीन तिवारी, मोहित सक्सेना, अमित गुप्ता और अभय सिंघल के नाम से की गई थी। 2008 में, यह एसएमएस-आधारित सेवाओं से मोबाइल विज्ञापन तक बढ़ाया गया था और इनमोबी के रूप में पुनः विकसित किया गया था। 2011 में, InMobi पहली भारतीय गेंडा स्टार्टअप कंपनी बन गई।

    Read More

  34. जिंदल ग्रुप JSW Group

    JSW ग्रुप एक भारतीय व्यवसाय समूह है। यह सज्जन जिंदल और जिंदल समूह का हिस्सा है। इससे पहले का नाम जिंदल साउथ वेस्ट था। बाद में, कंपनी ने इसे एक ब्रांड के रूप में बढ़ावा देने के लिए JSW के नाम को अपनाया। अब इस समूह के विभिन्न क्षेत्रों में पैर के निशान हैं: स्टील, ऊर्जा, खनिज, बंदरगाह और बुनियादी ढाँचा, और सीमेंट, पूरे भारत, अमेरिका, दक्षिण अमेरिका और अफ्रीका में।

    Read More

  35. लार्सन एंड टूब्रो Larsen & Toubro
    लार्सन एंड टूब्रो (Larsen & Toubro (L&T) (NSE: LT, BSE: 500510)) भारत की एक बहुराष्ट्रीय कंपनी है। इसका मुख्यालय मुम्बई में है। यह विश्व के अनेक देशों में कार्यरत है तथा इसके कार्यालय एवं कारखाने पूरे विश्व में फैले हुए हैं। कंपनी के चार मुख्य व्यापारिक क्षेत्र हैं: प्रौद्योगिकी, अभियांत्रिकी, निर्माण और उत्पादन | कंपनी की लगभग 25 देशों में 60 से अधिक इकाइयां हैं |

    Read More

  36. मैरिको लिमिटेड Marico

    मैरिको लिमिटेड भारत की प्रमुख उपभोक्ता सामान कंपनियों में से एक है जो स्वास्थ्य, सौंदर्य और कल्याण के क्षेत्रों में उपभोक्ता उत्पाद और सेवाएँ प्रदान करती है। मुंबई, महाराष्ट्र, भारत में इसके मुख्यालय के साथ, एशिया और अफ्रीका के उभरते बाजारों में 25 से अधिक देशों में मैरिको मौजूद है। यह बालों की देखभाल, त्वचा की देखभाल, खाद्य तेलों, स्वास्थ्य खाद्य पदार्थों, पुरुष सौंदर्य और कपड़े की देखभाल की श्रेणियों में ब्रांडों का मालिक है।

    Read More

  37. माइक्रोमैक्स Micromax Informatics
    माइक्रोमैक्स गुड़गांव, हरियाणा, भारत में अवस्थित एक दूरसंचार कंपनी है। यह एक वायरलेस टेलीफोन हैंडसेट विक्रेता है। पूरे देश में माइक्रोमैक्स के 23 घरेलू कार्यालय एवं हांगकांग, संयुक्त राज्य अमेरिका, दुबई और अब नेपाल में अंतर्राष्ट्रीय कार्यालय हैं। 31 मार्च 2010 को समाप्त हुई तिमाही के दौरान भेजी गई इकाईयों के परिमाणों के हिसाब से माइक्रोमैक्स भारतीय घरेलू मोबाइल हैंडसेटों की सबसे बड़ी कंपनी एवं 31 मार्च 2010 को भारत में सबसे बड़ी मोबाइल हैंडसेट विक्रेता है।

    Read More

  38. माइंडट्री लिमिटेड Mindtree

    माइंडट्री लिमिटेड एक भारतीय बहुराष्ट्रीय सूचना प्रौद्योगिकी और आउटसोर्सिंग कंपनी है जिसका मुख्यालय बैंगलोर, भारत और न्यू जर्सी, संयुक्त राज्य अमेरिका में है। यह लार्सन एंड टुब्रो ग्रुप का हिस्सा है। 1999 में स्थापित, कंपनी ने लगभग 21,991 कर्मचारियों को ₹ 7839.9 करोड़ (यूएस 1.1 बिलियन) के वार्षिक राजस्व के साथ नियुक्त किया है।

    कंपनी 31 मार्च 2019 तक 18 से अधिक देशों में 307 से अधिक सक्रिय ग्राहकों और 43 कार्यालयों के साथ ई-कॉमर्स, मोबाइल एप्लिकेशन, क्लाउड कंप्यूटिंग, डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन, डेटा एनालिटिक्स, टेस्टिंग, एंटरप्राइज एप्लीकेशन इंटीग्रेशन और एंटरप्राइज रिसोर्स प्लानिंग का काम करती है।

    Read More

  39. Motherson Sumi Systems Limited (MSSL) Motherson Group की प्रमुख कंपनी है । यह 1986 में स्थापित किया गया था और 1993 के बाद से भारतीय  स्टॉक एक्सचेंज  में  सूचीबद्ध  किया गया है । कंपनी  एक विशेष पूर्ण-प्रणाली समाधान प्रदाता है और मोटर वाहन और एशिया, यूरोप, उत्तरी अमेरिका, दक्षिण में अन्य उद्योगों में ग्राहकों की एक विविध रेंज को पूरा करती है। अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और अफ्रीका। यह  तारों हार्नेस, रियरव्यू मिरर, कॉकपिट, बम्पर, इंटीरियर ट्रिम के साथ ही अन्य बहुलक की एक विस्तृत रेंज, elastomer और धातु आधारित भागों और प्रणालियों में एक बढ़ती उपस्थिति है। यह  अपने ग्राहकों के साथ निकटता प्रदान करता है, उन्हें दुनिया भर में उनकी उत्पाद आवश्यकताओं के लिए समर्थन देता है। अधिक जानकारी की तलाश करने वाले निवेशक और हितधारक इसे यहां पाएंगे।

    Read More

  40. पिरामल समूह Piramal Group

    पिरामल समूह एक विविध वैश्विक व्यापार समूह है, जिसमें स्वास्थ्य सेवा, जीवन विज्ञान, औषधि खोज, स्वास्थ्य देखभाल सूचना प्रबंधन, विशेष ग्लास पैकेजिंग, वित्तीय सेवाओं और रियल एस्टेट जैसे विभिन्न क्षेत्रों में उपस्थिति है।

    Read More

  41. ओला कैब्स Ola Cabs
    ओला कैब्स(OLΛ के रूप में शैलीबद्ध), एक भारतीय राइडशेयरिंग कंपनी (TNC) है जो कई सेवाएं प्रदान करती है जिनमें पीयर-टू-पीयर राइडशेयरिंग, राइड सर्विस हेलिंग, टैक्सी और फूड डिलीवरी शामिल हैं। कंपनी बेंगलुरु, कर्नाटक, भारत में स्थापित है तथा यह एएनआई टेक्नोलॉजीस प्राइवेट लिमिटेड (ANI Technologies Pvt. Ltd.) द्वारा विकसित की गई थी। अक्टूबर 2019 तक, ओला का मूल्य लगभग ₹ 7 खरब था। कंपनी में सॉफ्टबैंक सहित विभिन्न प्रकार के उद्यम पूंजीपतियों की बडी हिस्सेदारियाँ हैं।

    Read More

  42. ओयो रूम्स Oyo Rooms

    ओयो रूम्स (ओयो के रूप में शैलीबद्ध), जिसे ओयो होटल्स एंड होम्स के रूप में भी जाना जाता है, पट्टे और फ्रेंचाइज्ड होटलों, घरों और रहने की जगहों की एक भारतीय आतिथ्य श्रृंखला है। 2013 में रितेश अग्रवाल द्वारा स्थापित, ओयो ने शुरू में मुख्य रूप से बजट होटल शामिल किए। भारत, मलेशिया, यूएई, नेपाल, चीन, ब्राजील, मैक्सिको, ब्रिटेन, फिलीपींस, जापान, सऊदी अरब, श्रीलंका में हजारों होटलों, छुट्टी के घरों और लाखों कमरों के साथ स्टार्टअप का विस्तार हुआ। , इंडोनेशिया, वियतनाम, संयुक्त राज्य अमेरिका और अधिक।

    Read More

  43. ओल्ड मोंक Old Monk

    ओल्ड मोंक रम 1954 में लॉन्च किया गया एक प्रतिष्ठित वेटेड इंडियन डार्क रम है। यह मिश्रित और कम से कम 7 वर्ष की आयु का है। यह एक अलग वेनिला स्वाद के साथ एक डार्क रम है, जिसमें शराब की मात्रा 42.8% है। इसका उत्पादन उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में होता है।

    कोई विज्ञापन नहीं है, इसकी लोकप्रियता मुंह के शब्द और ग्राहकों की वफादारी पर निर्भर करती है। हालांकि, 2013 में ओल्ड मॉन्क ने मैकडॉवेल के नंबर 1 सेलेब्रेशन रम में सबसे ज्यादा बिकने वाले डार्क रम के रूप में अपनी रैंक खो दी। ओल्ड मॉन्क कई वर्षों से सबसे बड़ा भारतीय निर्मित विदेशी शराब (IMFL) ब्रांड है।

    Read More

  44. पुंज लॉयड Punj Lloyd

    पुंज लॉयड एक भारतीय इंजीनियरिंग खरीद और निर्माण ठेकेदार है जो ऊर्जा, बुनियादी ढांचे और रक्षा क्षेत्रों के लिए सेवाएं प्रदान करता है। कंपनी का परिचालन मध्य पूर्व और अफ्रीका,एशिया प्रशांत, दक्षिण एशिया और यूरोप में फैला हुआ है। समूह में 50 से अधिक सहायक शामिल हैं और 60 से अधिक देशों में कई परियोजनाओं को क्रियान्वित किया है। कंपनी का मुख्यालय गुड़गांव, हरियाणा, भारत में है, और इसका स्टॉक बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ़ इंडिया में सूचीबद्ध है।

    Read More

  45. राजेश एक्सपोर्ट्स लिमिटेड Rajesh Exports

    राजेश एक्सपोर्ट्स लिमिटेड भारत में एक गोल्ड रिटेलर है जो सोने और गहनों को परिष्कृत, डिजाइन और बेचता है। कंपनी ने 2019 में फॉर्च्यून ग्लोबल 500 पर 495 वें स्थान पर, $ 25,142 मिलियन से अधिक के राजस्व के साथ, यह राजस्व द्वारा भारत में आठवीं सबसे बड़ी कंपनी बना। वर्तमान प्रबंध निदेशक प्रशांत मेहता हैं और कार्यकारी अध्यक्ष राजेश मेहता हैं।

    Read More

  46. रिलायंस समूह Reliance Group

    रिलायंस समूह की स्थापना धीरुभाई अंबानी ने 1966 में एक पॉलिएस्टर फर्म के रूप में की थी। 08 मई 1973 को इसका नाम बदलकर रिलायंस इंडस्ट्रीज कर दिया गया। बाद में रिलायंस ने वित्तीय सेवाओं, पेट्रोलियम रिफाइनिंग, बिजली क्षेत्र में प्रवेश किया। 2002 तक रिलायंस U $ 15 बिलियन समूह में विकसित हो गया था। 6 जुलाई 2002 को धीरूभाई अंबानी की मृत्यु के बाद, रिलायंस का नेतृत्व उनके दो बेटों ने किया। रिलायंस एडीए समूह का गठन 2006 में दो भाइयों मुकेश अंबानी और अनिल अंबानी के बाद किया गया था, जिन्होंने दिसंबर 2005 में रिलायंस इंडस्ट्रीज का विभाजन किया। अनिल अंबानी को Reliance Infocomm, Reliance Energy और Reliance Capital की जिम्मेदारी मिली। रिलायंस समूह ने Adlabs का अधिग्रहण करके रिलायंस पावर और मनोरंजन क्षेत्र के माध्यम से बिजली क्षेत्र में प्रवेश किया। अक्टूबर 2010 में, रिलायंस पावर ने शंघाई इलेक्ट्रिक ग्रुप को सुपरक्रूज स्टीम जनरेटर तकनीक पर आधारित बिजली उपकरण की आपूर्ति के लिए दुनिया का सबसे बड़ा 8.29 बिलियन डॉलर का ऑर्डर दिया। 28 अक्टूबर 2017 को, समूह ने मिहान-एसईजेड क्षेत्र में एक रक्षा उत्पादन इकाई का निर्माण शुरू किया। यूनिट अनिल अंबानी के नेतृत्व वाले रिलायंस समूह और उसके जेवी पार्टनर फ्रांसीसी प्रमुख डसॉल्ट एविएशन के बीच एक संयुक्त उद्यम का हिस्सा होगा। मिहान-एसईजेड का उत्पादन डसॉल्ट द्वारा निर्मित राफेल युद्धक विमानों और फाल्कन बिजनेस जेट के लिए घटकों के साथ शुरू होगा। आने वाले वर्षों में नागपुर इकाई में दोनों विमानों को पूरी तरह से इकट्ठा करने की उम्मीद है।

    Read More

  47. सहारा इंडिया परिवार Sahara India Pariwar

    सहारा इंडिया परिवारलखनऊ, भारत में स्थित एक भारतीय समूह है। समूह वित्त, बुनियादी ढांचे और आवास, मीडिया और मनोरंजन, स्वास्थ्य देखभाल, शिक्षा, आतिथ्य और सूचना प्रौद्योगिकी जैसे व्यावसायिक क्षेत्रों का संचालन करता है। यह समूह भारत में खेलों का एक प्रमुख प्रवर्तक रहा है और भारतीय राष्ट्रीय क्रिकेट टीम, भारतीय राष्ट्रीय हॉकी टीम और बांग्लादेश की राष्ट्रीय क्रिकेट टीम, कई अन्य खेलों के बीच फोर्स इंडिया फॉर्मूला वन टीम के शीर्षक प्रायोजक थे।

    Read More

  48. सत्यम कम्प्यूटर सर्विसेज़ Satyam Computer Services Limited

    सत्यम कम्प्युटर सर्विसिस लि एक परामर्शदाता और सूचना प्रौद्योगिकी सेवाओं की कम्पनी है, जो हैदराबादभारत में स्थित है।

    इसके संस्थापक बी॰ रामलिंग राजू[1] है। यह कम्पनी विभिन्न क्षेत्रों से संबंधित सूचना प्रौद्योगिकी सेवाएँ प्रदान करती है और यह न्युयार्क स्टॉक एक्स्चेंज और यूरोनैक्स्ट में सूचीबद्द है।

    सत्यम का नेटवर्क 67 देशों और छः महाद्वीपों में फैला हुआ है। कम्पनी में लगभग 40,000 आईटी व्यवसायी कार्यरत हैं और इसके विकास केन्द्र भारत, अमेरिका, यूनाइटेड किंगडम, संयुक्त अरब अमीरात, कनाडा, हंगरी, सिंगापुर, मलेशिया, चीन, जापान, मिस्र और ऑस्ट्रेलिया में फैले हैं। यह लगभग 654 कम्पनीयों को सूप्रौ सेवाएँ प्रदान करती है, जिनमें से 185 फॉर्च्यून 500 में भी हैं। सत्यम की लगभग 50 कम्पनीयों से सामरिक तकनीकी और विपणन संबंधतता है। हैदराबाद के अतिरिक्त, इसके विकास केन्द्र भारत के इस नगरों में भी हैं - बंगलोर, चेन्नई, पुणे, मुम्बई, नागपुर, दिल्ली, कोलकाता, भुवनेश्वर और विशाखापट्टनम।

    Read More

  49. सुजलॉन एनर्जी Suzlon
    सुजलॉन एनर्जी (BSE: 532667) भारत में स्थित एक वैश्विक पवन ऊर्जा कम्पनी है। बाजार में हिस्सेदारी के मामले में, यह कंपनी एशिया में चौथी सबसे बड़ी विंड टरबाइन निर्माता है (और दुनिया भर में 8वीं सबसे बड़ी). निवल मूल्य के मामले में, यह दुनिया की सबसे मूल्यवान पवन ऊर्जा कम्पनी है, लेकिन बाज़ार मूल्य के आधार पर मापने पर, यह कंपनी वेस्टास से छोटी है और संभवतः जीई (GE), गमेसा कॉर्पोरेशन टेक्नोलोजीका, एनरकौन और सीमेंस से भी जिनका बाज़ार मूल्य जानना कठिन है क्योंकि उनका व्यापार स्वतंत्र संस्थाओं के रूप में नहीं किया जाता है। पुणे में मुख्यालय होने के अलावा, इस कम्पनी की भारत में कई निर्माण इकाइयां हैं जिनमें शामिल हैं पांडिचेरी, दमन, भुज और गांधीधाम साथ ही साथ मुख्य भूमि चीन, जर्मनी और बेल्जियम, में भी हैं। यह कंपनी भारत के राष्ट्रीय स्टॉक एक्सचेंज और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध है।

    Read More

  50. टाटा समूह Tata Group
    टाटा समूह एक निजी व्यवसायिक समूह है जिसका मुख्यालय मुंबई में स्थित है। वर्तमान में इसके अध्यक्ष रतन टाटा हैं। टाटा समूह के चेयरमेन रतन टाटा ने 28 दिसम्बर 2012 को सायरस मिस्त्री को टाटा समूह का उत्तराधिकारी नियुक्त किया। रतन टाटा पिछले 50 सालों से टाटा समूह से जुड़े हैं वे 21 सालों तक टाटा समूह के अध्यक्ष रहे। रतन टाटा ने जे आर डी टाटा के बाद 1991 में कार्यभार संभाला। टाटा परिवार का एक सदस्य ही हमेशा टाटा समूह का अध्यक्ष रहा है। इसका कार्यक्षेत्र अनेक व्यवसायों व व्यवसाय से सम्बंधित सेवाओं के क्षेत्र में फैला हुआ है - जैसे: अभियांत्रिकी, सूचना प्रौद्योगिकी, संचार, वाहन, रासायनिक उद्योग, ऊर्जा, सॉफ्टवेयर, होटल, इस्पात एवं उपभोक्ता सामग्री।
    टाटा समूह की सफलता को इसके आंकडे बखूबी बयां करते हैं। 2005-06 में इसकी कुल आय $967229 मिलियन थी। ये समस्त भारत कि GDP के 2.8 % के बराबर है। 2004 के आंकड़ों के अनुसार टाटा समूह में करीब 2 लाख 46 हज़ार लोग काम करते हैं। market capitalization का आंकड़ा $57.6 बिलियन को छूता है। टाटा समूह कि कुल 96 कम्पनियां 7 अलग अलग व्यवसायिक क्षेत्रों में सक्रिय हैं। इन 96 में से केवल 28 publicly listed कम्पनियाँ हैं। टाटा समूह 6 महाद्वीपों के 40 से भी अधिक देशों में सक्रिय है। टाटा समूह दुनिया के 140 से भी अधिक देशों को उत्पाद व सेवाएँ निर्यात करता है। इसके करीब 65.8% भाग पर टाटा के Charitable Trust का मालिकाना हक है।
    टिस्को (TISCO), जिसे अब टाटा स्टील (Tata steel) के नाम से जाना जाता है, की स्थापना 1907 में भारत के पहले लोहा व इस्पात कारखाने के तौर पर हुई थी। इसकी स्थापना जमशेदपुर में हुई थी जिसे लोग टाटा नगर भी पुकारते हैं। इस्पात (steel) व लोहे का असल उत्पादन 1912 में शुरू हुआ। यह दुनिया में सबसे किफायती दरों पर इस्पात का निर्माण करता है। इसका मुख्य कारण है कि समूह की ही एक अन्य कंपनी इसे कच्चा माल, जैसे कोयला और लोहा आदि, उपलब्ध कराती है। 1910 में टाटा जलविद्युत शक्ति आपूर्ति कम्पनी (Tata Hydro-Electric Power Supply Company) की स्थापना हुई। 1917 में टाटा आयल मिल्स (Tata Oil Mill) की स्थापना के साथ ही समूह ने घरेलू वस्तुयों के क्षेत्र में कदम रखा और साबुन, कपडे धोने के साबुन, डिटर्जेंट्स (detergents), खाना पकाने के तेल आदि का निर्माण शुरू किया। 1932 में टाटा एयरलाइन्स (Tata Airlines) की शुरुआत हुई। टाटा केमिकल्स (Tata Chemicals) का आगमन 1939 में हुआ। टेल्को (TELCO), जिसे अब टाटा मोटर्स (TataMotors) के नाम से जाना जाता है, ने 1945 में रेल इंजनों और अन्य मशीनी उत्पादों का निर्माण शुरू किया।
    जनवरी 2007 का महीना टाटा समूह के इतिहास में सुनहरे अक्षरों में दर्ज किया जाएगा। टाटा स्टील ने यूनाइटेड किंगडम (UK) में स्थित कोरस समूह (Corus Group) की सफल बोली लगा कर उसे हासिल किया। कोरस समूह दुनिया की सबसे बड़ी लोहा व इस्पात निर्माण कंपनी है। बोली के अप्रत्याशित 9 दौर चले जिसके अंत में टाटा समूह ने कोरस का 100 प्रति शत हिस्सा 608 पाउंड प्रति शेयर (नकद) के हिसाब से कुल 12. 04 बिलियन डालर में खरीदने में सफलता पाई। यह किसी भी भारतीय कंपनी के द्वारा किया गया सबसे बड़ा अधिग्रहण है।
    टाटा पावर भारत में निजी क्षेत्र की सबसे बड़ी कम्पनियों में से एक है। यह मुंबई एवं दिल्ली के कुछ हिस्सों को बिजली प्रदान करती है। टाटा केमिकल्स और टाटा पिगमेन्ट्स (Tata Pigments) का भी अपने अपने क्षेत्रों में काफी नाम है। सेवा क्षेत्र में भी टाटा समूह की कई कम्पनियां होटल, बीमा व जीवन बीमा उद्योग में सक्रिय हैं। टाटा समूह प्रबंधन व आर्थिक सलाहकार सेवाओं में भी काफी सफल साबित हुआ है। शेयरों व निवेष की दुनिया में भी टाटा का खासा नाम है। जहाँ तक शिक्षा का सवाल है, तो इस के लिए तो केवल टाटा मैक्ग्रा (Tata Mcgraw) का नाम लेने मात्र से ही इस क्षेत्र में टाटा समूह की सफलता को बयां किया जा सकता है। पर टाटा का शिक्षा से जुड़ाव केवल इस मशहूर प्रकाशन कंपनी तक ही सीमित नहीं है। अनेक सरकारी संस्थानों व कम्पनियों की शरुआत टाटा द्वारा ही की गयी, जैसे - भारतीय विज्ञाना संस्थान (Indian Institute of Science), टाटा मूलभूत अनुसंधान केन्द्र (Tata Institute of Fundamental Research), टाटा समाज विज्ञान संस्थान (Tata Institute of Social Sciences) और टाटा ऊर्जा अनुसंधान संस्थान (Tata Energy Research Institute)। यहाँ तक की भारत की आधिकारिक विमान सेवा एयर इन्डिया का भी जन्म टाटा एयरलाइन्स के रूप में हुआ था। इसके अलावा टाटा मैनेजमेन्ट ट्रेनिंग सेन्टर, पुणे और नेशनल सेन्टर फार पर्फार्मिंग आर्ट्स भी ऐसे संस्थान हैं जिनका श्रेय टाटा समूह को दिया जाना चाहिए।
    टाटा का नाम चाय में टाटा चाय (Tata Tea) और घड़ियों में टाइटन (Titan) से जुड़ा है। Tata Trent (Westside) और टाटा स्काय (Tata Sky) भी अपने अपने क्षेत्रों के ऐसे नाम हैं जो टाटा समूह का ही हिस्सा हैं।
    सूचना व संचार के क्षेत्र में भी टाटा का नाम INCAT, Nelco, Nelito Systems, TCS और Tata Elxsi से जुड़ा है। इसके अलावा साफ्टवेयर बनाने वाली भी कम्पनियां हैं जो टाटा का हिस्सा हैं- जैसे - टाटा इंटरैक्टिव सिस्टम्स (Tata Interactive Systems), टाटा इन्फोटेक (Tata Infotech), टाटा टटेक्नालोजीज लि (Tata Technologies Ltd), टाटा टेलीसर्विसेस, टाटानेट (Tatanet) आदि। टाटा ने 2005 में बरमूडा से संचालित कनेडियन कंपनी टेलीग्लोब (Teleglobe) से भारतीय दूरसंचार क्षेत्र की विशाल कंपनी विदेश संचार निगम लिमिटेड (VSNL) को हासिल किया।
    टाटा समूह का उद्देश्य समझदारी, जिम्मेदारी, एकता और बेहतरीन काम से समाज में जीवन के स्तर को उंचा उठाना है। टाटा समूह (Tata Group) के नाम से जाने जाने वाले इस परिवार का हर सदस्य इन मूल्यों का अनुसरण करता है। भारत के शिक्षा, विज्ञान और तकनीकी क्षेत्र में टाटा का योगदान अति महत्वपूर्ण है। इसके बारे में विस्तार से लिखा जा चुका है और लगभग हर भारतीय इस बात का सम्मान करता है। टाटा का नीले रंग का चिन्ह (Logo) निरंतर प्रवाह की और तो इशारा करता ही है, यह कल्प-तरु या बोधि वृक्ष (Tree of Knowledge) का भी प्रतीक है। इसे एक ऐसा वृक्ष भी माना जा सकता है जिसके नीचे हर कोई शरण पा सकता है, सकून पा सकता है।

    Read More

  51. इंडियन होटल्स कंपनी लिमिटेड Indian Hotels Company Limited

    इंडियन होटल्स कंपनी लिमिटेड (IHCL) एक भारतीय आतिथ्य कंपनी है जो होटल, रिसॉर्ट्स, जंगल सफारी, महलों, स्पा और इन-फ्लाइट कैटरिंग सेवाओं के पोर्टफोलियो का प्रबंधन करती है। यह टाटा समूह समूह की एक सहायक कंपनी है।

    IHCL की स्थापना 1899 में जमशेदजी टाटा द्वारा की गई थी और इसका मुख्यालय मुंबई, महाराष्ट्र में है। 80 से अधिक स्थानों और 17 देशों में 160 से अधिक होटल हैं, जिनमें 20,000 कमरे और 25,000 कर्मचारी हैं।

    Read More

  52. थर्मैक्स लिमिटेड Thermax

    थर्मैक्स लिमिटेड ऊर्जा और पर्यावरण में शामिल एक इंजीनियरिंग कंपनी है।

    इसकी स्थापना 1966 में एएस भठैना द्वारा एक पारिवारिक चिंता के रूप में की गई थी और बाद में उनके दामाद रोहिंटन डी। आगा (आरडी आगा) ने इसे संभाल लिया, जिन्होंने 1996 में अपनी मृत्यु तक अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक के रूप में कार्य किया। कंपनी चली गई। सार्वजनिक रूप से 1995 में। उनकी मृत्यु के बाद, आरडी आगा की पत्नी, अनु आगा, जो उस समय मानव संसाधन प्रमुख थीं, अध्यक्ष बनीं।

    Read More

  53. टाइटन कंपनी लिमिटेड Titan Company

    टाइटन कंपनी लिमिटेड (पहले टाइटन इंडस्ट्रीज लिमिटेड के रूप में जाना जाता है) एक भारतीय लक्जरी सामान कंपनी है जो मुख्य रूप से घड़ियों, आभूषणों और आईवियर जैसे फैशन के सामान बनाती है। टाटा समूह का हिस्सा, कंपनी का मुख्यालय इलेक्ट्रॉनिक सिटी, बैंगलोर में है। इसने 1984 में टाइटन वॉचेस लिमिटेड के नाम से परिचालन शुरू किया। 1994 में, टाइटन ने तनिष्क के साथ आभूषणों में विविधता लाई और बाद में टाइटन आईप्लस के साथ आईवियर में। 2013 में, टाइटन ने स्किन ब्रांड के साथ सुगंध खंड में प्रवेश किया और बाद में उसी वर्ष, इसने अपने ब्रांड फास्टट्रैक के तहत हेलमेट श्रेणी में प्रवेश किया।

    Read More

  54. टीवीएस समूह TVS Group
    टीवीएस एक भारतीय औद्योगिक समूह है जिसकी बुनियाद मुख्यतः चेन्नई और मदुराई में रखी गई थी और यह विविध क्षेत्रों में सक्रिय है। इस समूह की लगभग सभी कंपनियां निजी स्वामित्व के तहत हैं। इनमें से सबसे बड़ी और सबसे ज्यादा दिखाई देने वाली कंपनी टीवीएस मोटर्स है जो भारत की शीर्ष 3 दुपहिया वाहन निर्माता कंपनियों में से एक है। बीसवीं सदी के मोड़ पर एक छोटी शुरुआत के बाद से इस समूह ने प्रगति करते हुए भारत की सबसे बड़ी ऑटो उपकरण निर्माता एवं वितरक कंपनी बनने का गौरव हासिल किया है। टीवी सुन्दरम अयंगर एण्ड सन्स इस समूह की होल्डिंग कंपनी है; और टी. वी. सुन्दरम अयंगर इसके संस्थापक थे।

    Read More

  55. यूपीएल लिमिटेड UPL Limited

    यूपीएल लिमिटेड, (पूर्व में यूनाइटेड फॉस्फोरस लिमिटेड), एक भारतीय बहुराष्ट्रीय कंपनी है जो कृषि रसायन, औद्योगिक रसायन, रासायनिक मध्यवर्ती, और विशेष रसायन बनाती है और फसल सुरक्षा समाधान भी प्रदान करती है। मुंबई, महाराष्ट्र में मुख्यालय, कंपनी कृषि और गैर-कृषि दोनों गतिविधियों में संलग्न है। कृषि व्यवसाय कंपनी के राजस्व का प्राथमिक स्रोत है और इसमें पारंपरिक कृषि उत्पाद, बीज और अन्य कृषि संबंधित उत्पादों का निर्माण और विपणन शामिल है। नॉन-एग्रो सेगमेंट में औद्योगिक रसायन और अन्य गैर-कृषि संबंधित उत्पादों जैसे कि फफूंदनाशी, शाकनाशी, कीटनाशक, पौधे की वृद्धि और नियामक, कृंतक, औद्योगिक और विशेष रसायन, और पोषक तत्व शामिल हैं। UPL उत्पाद 150+ देशों में बेचे जाते हैं।

    Read More

  56. यूनाइटेड स्पिरिट्स लिमिटेड United Spirits

    यूनाइटेड स्पिरिट्स लिमिटेड, यूएसएल के लिए संक्षिप्त, एक भारतीय मादक पेय कंपनी है, और मात्रा के हिसाब से दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी स्प्रिट कंपनी है। यह डियाजियो की सहायक कंपनी है, और इसका मुख्यालय कर्नाटक के बैंगलोर में यूबी टॉवर में है। यूएसएल 37 से अधिक देशों में अपने उत्पादों का निर्यात करता है।

    Read More

  57. विप्रो Wipro
    विप्रो लिमिटेड, भारत की तीसरी सबसे बड़ी आईटी कंपनी है, जिसका मुख्यालय बेंगलूर में है। इसकी स्थापना 1966 में एक व्यवसायी के पुत्र अज़ीम प्रेमजी ने किया था। आज इसकी आय कोई 600 अरब रुपये प्रतिवर्ष है और मुनाफ़ा कोई 70 अरब रुपये। यह सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्र की सेवा कंपनी है।
    1977 में जनता सरकार के समय विदेशी कंपनियों (जैसे आईबीएम) के भारत छोड़ने के आदेश के बाद इसके व्यवसाय में असरदार इजाफ़ा हुआ था। आज यह एक बहु व्यवसाय तथा बहु स्थान कंपनी के रूप में उभरी है। इसका व्यसाय उपभोक्ता उत्पादों, अधोसरंचना यांत्रिकी से विशिष्ट सूचना प्रौद्योगिकी उत्पादों और सेवाओं तक विस्तारीत है। कंपनी की आंतरिक कार्यप्रणाली अन्य सॉफ्टवेर कंपनियों के मुकाबले अधिक सख़्त है।

    Read More

  58. वॉकहार्ट लिमिटेड Wockhardt

    वॉकहार्ट लिमिटेड एक वैश्विक दवा और जैव प्रौद्योगिकी कंपनी है जिसका मुख्यालय मुंबई, भारत में है। कंपनी के भारत, ब्रिटेन, आयरलैंड, फ्रांस और अमेरिका में विनिर्माण संयंत्र हैं, और अमेरिका, ब्रिटेन, आयरलैंड और फ्रांस में सहायक कंपनियां हैं। यह एक वैश्विक कंपनी है जिसका आधा से अधिक राजस्व यूरोप से आता है। 2011-2012 में इसकी यूके और यूएसए की बिक्री अकेले यूएस $ 475 मिलियन थी। [5] रूस, ब्राजील, मैक्सिको, वियतनाम, फिलीपींस, नाइजीरिया, केन्या, घाना, तंजानिया, युगांडा, नेपाल, म्यांमार, श्रीलंका, मॉरीशस, लेबनान और कुवैत जैसे उभरते बाजारों में इसकी मौजूदगी है। कंपनी का बाजार पूंजीकरण has 211 बिलियन (US $ 3.0 बिलियन) और of 36 बिलियन (US $ 500 मिलियन) का वार्षिक कारोबार है। [उद्धरण वांछित] यह योगों, बायोफर्मासिटिकल, पोषण उत्पादों, टीकों और सक्रिय दवा का उत्पादन करता है। सामग्री (एपीआई) कंपनी वैश्विक स्तर पर 8,600 से अधिक लोगों को रोजगार देती है। वॉकहार्ट हॉस्पिटल्स वॉकहार्ट ग्रुप की एक सहायक कंपनी है। वॉकहार्ट ग्लोबल स्कूल वॉकहार्ट समूह की एक सहायक कंपनी है।

    Read More

  59. एस्सेल समूह Essel Group

    एस्सेल ग्रुप (वैकल्पिक रूप से ज़ी ग्रुप के रूप में जाना जाता है) एक भारतीय समूह की कंपनी है और मुंबई, महाराष्ट्र, भारत में कॉर्पोरेट प्रमोटर का मुख्यालय है। कंपनी की मास मीडिया, ब्रॉडकास्टिंग इंफ्रास्ट्रक्चर और पैकेजिंग में व्यावसायिक हित हैं। यह Zee Media Corporation, Zee Entertainment Enterprises, Dish TV और Siti Networks की सहायक कंपनियों का संचालन करता है। समूह को गंभीर ऋण से ग्रस्त होने की सूचना दी गई है; एक बिज़नेसवर्ल्ड लेख ने कंपनी को ऋण-ग्रस्त बताया। परिणामस्वरूप, इसने एस्सेल प्रॉप की बिक्री और ज़ी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज की हिस्सेदारी की बिक्री सहित कई परिसंपत्तियों की बिक्री का संचालन किया है। 1926 में जगन्नाथ गोयनका द्वारा मेसर्स रामगोपाल इंद्रप्रसाद के रूप में स्थापित, कंपनी का विस्तार और उसका पोता, सुभाष चंद्र द्वारा एस्सेल ग्रुप ऑफ़ इंडस्ट्रीज में परिवर्तित किया गया था। चंद्रा गोयनका (गोयल) परिवार का हिस्सा है जो समूह का मालिक है और इसका संचालन करता है, वह कंपनी का अध्यक्ष भी है और भारतीय जनता पार्टी के राज्यसभा का सदस्य है।

    Read More

  60. भारती इंटरप्राइजेज Bharti Enterprises

    भारती इंटरप्राइजेज (Bharti Enterprises), एक विशाल भारतीय व्यापारिक समूह है जिसका मुख्यालय भारत के नई दिल्ली में स्थित है, जहाँ से इसका संचालन संपूर्ण भारत और कुछ अन्य देशों में भी किया जाता है, जैसे श्री लंका, बांग्लादेश, जर्सी, गर्नसी और सेशेल्स; और साथ ही अफ्रीका के बुर्किना फासो, चाड, कांगो ब्राज़ाविल, कांगो लोकतान्त्रिक गणराज्य, गबोन, घाना, केन्या, मेडागास्कर, मालावी, नाइजर, नाइजीरिया, सिएरा लेओन, तंज़ानिया, युगांडा और जाम्बिया में भी इसका विस्तार हो रहा है। इसकी स्थापना सुनील भारती मित्तल द्वारा की गयी थी। भारती एंटरप्राइजेज का व्यापार दूरसंचार, खुदरा, वित्तीय सेवाएं, उत्पादन और सॉफ्टवेयर क्षेत्रों में फ़ैल हुआ है।

    Read More

  61. गोकलदास एक्सपोर्ट्स Gokaldas Exports

    1995 में निगमित, गोकलदास एक्सपोर्ट्स, कपड़ों का सबसे बड़ा निर्यातक है भारत। कंपनी ब्लेज़र और पैंट (औपचारिक और कैज़ुअल), शॉर्ट्स, शर्ट, ब्लाउज़, डेनिम वियर, स्विमिंग वियर, एक्टिव और स्पोर्ट्स वियर बनाती है।

    कंपनी को अपने गुणवत्ता प्रबंधन के लिए आईएसओ 9001: 2000 प्रमाणन प्राप्त हुआ है।

    Read More

  62. जुबिलेंट ग्रुप Jubilant Group

    जुबिलेंट लाइफ साइंसेज लिमिटेड एक एकीकृत वैश्विक दवा और जीवन विज्ञान फार्मास्यूटिकल्स, जीवन विज्ञान सामग्री, दवा खोज समाधान और भारत ब्रांडेड फार्मास्यूटिकल्स में लगी कंपनी है।

    Read More

  63. रिको ऑटो इंडस्ट्रीज लिमिटेड Rico Auto Industries Limited
    • रीको एक विश्व स्तरीय इंजीनियरिंग कंपनी है जो दुनिया भर में ऑटोमोटिव ओईएम के लिए उच्च परिशुद्धता पूरी तरह से मशीनी एल्यूमीनियम और लौह घटकों और विधानसभाओं की एक विस्तृत श्रृंखला की आपूर्ति करती है।
    • रीको का समेकित समूह कुल कारोबार US $ 245 मिलियन से अधिक है
    • रीको की एकीकृत सेवाओं में डिजाइन, विकास, टूलींग, कास्टिंग, मशीनिंग और फेरस और एल्यूमीनियम उत्पादों के संयोजन शामिल हैं।

    Read More

  64. सुन्दरम फास्टनर्स लिमिटेड Sundram Fasteners Limited

    सुन्दरम फास्टनरों लिमिटेड कम्पनियों के टीवीस समूह का हिस्सा है| यह 1911 में टीवी सुन्दरम द्वारा स्थापित की गयी|

    Read More

  65. महिंद्रा समूह Mahindra Group
    महिन्द्रा समूह 6.7 बिलियन अमरिकी डॉलर के सम्पत्ति आधार के साथ भारत के श्रेष्ठ दस औद्योगिक घरानों में से एक है तथा यह दुनिया की श्रेष्ठ तीन ट्रैक्टर निर्माता कंपनियों में से एक है। इन तमाम वर्षों में, महिन्द्रा ग्रुप ने भारतीय अर्थव्यवस्था के सभी महत्त्वपूर्ण क्षेत्रों में महत्त्वपूर्ण उपस्थिति दर्ज की है। लगातार नये स्तर बनाते हुए, आज यह देश की एक प्रमुख कार्यक्षम कंपनी के रूप में स्थापित हो चुकी है। सन 1945 में, मूलत: कंपनी की स्थापना महिन्द्रा एंड मोहम्मद के रूप में हुई थी। भारत के विभाजन के बाद, गुलाम मोहम्मद पकिस्तान चले गये और राष्ट्र के पहले वित्त मंत्री बने इसलिए सन 1948 में कंपनी का नाम 'महिन्द्रा एंड मोहम्मद' से बदलकर महिन्द्रा एंड महिन्द्रा कर दिया गया। ग्रामीण भारत तक टेक्नोलॉजी की प्रगति को पहुंचाने का मुख्य ध्येय कायम रखते हुए कंपनी ने अपने को एक ऐसे ग्रुप के रूप में ढ़ाला है जो कि विभिन्न व्यवसाय क्षेत्रों में अपनी उपस्थिति के साथ भारतीय और विदेशी बाजारों की मांग को पूरा करती है : ऑटोमोटिव, फार्म उपकरण, वित्तीय सेवाएं, सिस्टेक, आफ्टर मार्केट, सूचना टेक्नोलॉजी स्पेशियलिटी बिजनेस, अधोसंरचना विकास, ट्रेड, रीटेल तथा लौजिस्टिक्स। चेयरमैन केशुब महिन्द्रा तथा प्रबन्ध निदेशक आनन्द महिन्द्रा के नेतृत्व में महिन्द्रा एंड महिन्द्रा ने हर दृष्टि से प्रगति करते हुए ऐसे ग्रुप का रूप लिया है जो अपने कामकाज के हर-एक क्षेत्र में प्रमुख स्थान पर है। अत्याधुनिक टेक्नोलॉजी तथा किफायती उपलब्धता ने कंपनी को प्रत्येक गुजरते वर्ष के साथ और अधिक मज़बूत बनाया है। 62 वर्षों से अधिक के निर्माण अनुभव के साथ, महिन्द्रा समूह का टेक्नोलॉजी, इंजीनियरिंग, मार्केटिंग तथा वितरण में मजबूत आधार है जो कि एक ग्राहक-केन्द्रित संगठन के रूप में इसके विकास के लिए महत्त्वपूर्ण है। इस समूह में 75,000 से अधिक कर्मचारी कार्यरत हैं तथा इनकी अत्याधुनिक सुविधाएं भारत व विदेशों में स्थित हैं।

    Read More

  66. म्यू सिग्मा Mu Sigma

    म्यू सिग्मा एक भारतीय निर्णय विज्ञान फर्म है जो मुख्य रूप से डेटा एनालिटिक्स सेवाएं प्रदान करती है। फर्म का नाम सांख्यिकीय शब्दों "म्यू" और "सिग्मा" से लिया गया है, जो क्रमशः वितरण की संभावना के मानक और मानक विचलन का प्रतीक है। म्यू सिग्मा का मुख्यालय शिकागो, इलिनोइस में है और बैंगलोर में इसका वैश्विक वितरण केंद्र है।

    Read More

  67. भारत में मुख्यालय वाले एमटेक समूह, एक मजबूत वैश्विक उपस्थिति के साथ भारत में सबसे बड़े एकीकृत घटक निर्माताओं में से एक है। यह दुनिया की सबसे बड़ी वैश्विक फोर्जिंग और एकीकृत मशीनिंग कंपनियों में से एक बन गई है। समूह के पास फोर्जिंग, आयरन और एल्युमीनियम कास्टिंग, मैकिनिंग और सब-असेंबली में परिचालन है। इसमें भारत, जापान, थाईलैंड, जर्मनी, हंगरी, इटली, रोमानिया, ब्रिटेन, ब्राजील, मैक्सिको और अमेरिका में विश्व स्तरीय सुविधाएं हैं। एमटेक समूह में कॉरपोरेट संस्थाओं एमटेक ऑटो, जेएमटी ऑटो, एमटेक ग्लोबल टेक्नोलॉजीज और अन्य सहायक और सहयोगी शामिल हैं। 25 वर्षों में विकसित बुनियादी ढांचे और प्रौद्योगिकी मंच के साथ, समूह भारतीय ऑटो और गैर-ऑटो घटक बाजारों में अच्छी तरह से स्थित है।

    Read More

  68. बजाज ग्रुप Bajaj Group

    बजाज समूह एक भारतीय बहुराष्ट्रीय समूह है जो 1926 में मुंबई में जमनालाल बजाज द्वारा स्थापित किया गया था। बजाज समूह मुंबई, महाराष्ट्र में स्थित सबसे पुराने और सबसे बड़े समूह में से एक है।

    Read More

अगर आपको इस सूची में कोई भी कमी दिखती है अथवा आप कोई नयी प्रविष्टि इस सूची में जोड़ना चाहते हैं तो कृपया नीचे दिए गए कमेन्ट बॉक्स में जरूर लिखें |