आज की इस लिस्ट में हम दुनियाभर के धनवान व्यक्तियों में से शीर्ष चुनिन्दा व्यक्तियों के बारे में बताएँगे जिनकी संपत्ति करोड़ों में नहीं बल्कि अरबों-खरबों में है | इनमें से अधिकतर लोग व्यवसायी हैं और जैसा की हम सब जानते ही हैं कि फेसबुक, माइक्रोसोफ्ट, अमेजोन इत्यादि एसे उत्पाद हैं जिनकी पहुँच आज के समय में विश्व भर के जन-जन तक है |

तो आइये जानते हैं एसे ही कुछ अमीर लोगों के बारे में –

  1. जेफ बेज़ोस

    जेफरी प्रेस्टन 'जेफ' बेजोस (12 जनवरी 1964 का जन्म) अमेज़न.कॉम के संस्थापक, अध्यक्ष, मुख्य कार्यकारी अधिकारी और अमेज़न.कॉम बोर्ड के अध्यक्ष हैं।यह फोर्ब्स की 2018 की लिस्ट के अनुसार दुनिया के सबसे अमीर आदमी है। बेजोस, जो कि प्रिंसटन विश्वविद्यालय से स्नातक हैं और जिन्हें टाऊ बेटा पि नामक प्रतिष्ठित सम्मान मिल चुका है, ने 1994 में अमेज़न की स्थापना करने से पहले डी. ई. शॉ और कम्पनी के लिए वित्तीय विश्लेषक का कार्य किया।

    या और वे अपने पशु-फ़ार्म पर कार्य करने लगे, जहां बेजोस ने अपनी जवानी की ग्रीष्मकालीन छुटियाँ अपने नाना जी के साथ कार्य करते हुए बिताई. बेजोस यहाँ पशु फ़ार्म के परिचालन से सम्बंधित विविध प्रकार के कार्य किया करते थे। छोटी उम्र में ही, उन्होंने यांत्रिकी कार्यों के प्रति जबरदस्त योग्यता दिखाई- जब वे एक बच्चे थे तभी उन्होंने पेचकस से अपना पालना खोलने का प्रयास किया।

    जेफ बेजोस के जन्म के समय उनकी माता, जैकी, स्वयं एक किशोरी थी और उनका जन्म अल्बुकर्क, न्यू मैक्सिको में हुआ। बेजोस के पिता के साथ उनका विवाह एक वर्ष से भी कम समय के लिए चला. जब जेफ पाँच वर्ष के थे, तब उन्होंने दूसरा विवाह, मिगुअल बेजोस के साथ कर लिया। मिगुअल का जन्म क्यूबा में हुआ था और 15 वर्ष की उम्र में वे अकेले ही संयुक्त राज्य अमेरिका चले गए थे और फिर अपनी मेहनत के बल पर वे अल्बुकर्क विश्वविध्यालय तक पहुँच गए। शादी के बाद, यह परिवार ह्यूस्टन, टेक्सास, चला गया और मिगुअल यहाँ एक्सॉन नामक कंपनी में इंजीनियर बन गए। जेफ ने ह्यूस्टन में चौथी से छठी कक्षा तक रिवर ओक्स एलीमैंट्री में पढाई की।

    बेजोस ने कम उम्र में ही विविध वैज्ञानिक वस्तुओं के प्रति तीव्र रूचि दिखाई. उसने अपनी व्यक्तिगतता बनाए रखने के लिए और अपने छोटे भाई बहनों को अपने कमरे से दूर रखने के लिए एक अलार्म कमरे में गुप्त रूप से लगा दिया। उसने अपने माता पिता के गैरेज को अपनी विज्ञान परियोजनाओं के लिए एक प्रयोगशाला में बदल दिया। बाद में, यह परिवार मियामी, फ्लोरिडा, चला गया जहां बेजोस ने मियामी पालमेंटो सीनियर हाई स्कूल में अध्ययन किया। जब वह उच्च विद्यालय में था, तब उसने फ्लोरिडा विश्वविध्यालय में छात्र विज्ञान प्रशिक्षण कार्यक्रम में भाग लिया। इस प्रशिक्षण का लाभ उन्हें 1982 में तब मिला जब उन्होंने सिल्वर नाईट पुरस्कार से नवाजा गया। उन्होंने प्रिंसटन विश्वविद्यालय में भौतिक विज्ञान का अध्ययन करने के लिए प्रवेश लिया, परन्तु जल्दी ही वे उससे उकता गए और उन्होंने फिर से कंप्यूटरों की और रुख किया और फिर इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग और कंप्यूटर विज्ञान में स्नातक की उपाधी अत्यधिक प्रशंसा (सुम्मा कम लौड़े) के साथ प्राप्त की। उनके इस श्रेष्ट प्रदर्शन के लिए उन्हें फी बेटा कप्पा नामक संस्था सम्मान के रूप में अपनी संस्था की सदस्यता भी दी। 2008 में बेजोस को कार्नेगी मेलॉन विश्वविद्यालय से विज्ञान और प्रौद्योगिकी में मानद डॉक्टर की उपाधि से सम्मानित किया गया।

    Read More

  2. बिल गेट्स

    बिल गेट्स (विलियम हेनरी गेट्स III) माइक्रोसॉफ्ट नामक कम्पनी के सह संस्थापक तथा अध्यक्ष है। इनका जन्म 28 अक्टूबर, 1955 को वाशिंगटन के एक उच्च-मध्यम वर्गीय परिवार में हुआ। इनके पिता का नाम विलियम एच. गेट्स तथा माता का नाम मेरी मैक्सवैल था। पिता एक प्रतिष्ठित वकील तथा माता एक बैंक के व्यवस्थापक मंडल की सदस्य थीं।
    वर्ष 1975 में बिल गेट ने पाल एलन के साथ विश्व की सबसे बड़ी साफ्टवेयर कम्पनी की माइक्रोसॉफ्ट की स्थापना की। बिल गेट्स पर्सनल कंप्यूटर क्रान्ति के अग्रिम श्रेणी के उद्यमी माने जाते हैं, तथापि बिल गेट्स की आलोचना उनकी व्यापार रणनीतियोँ के लिए की जाती रही है। एकाधिकार वादी व्यापारिक रणनीति अपनाने की आलोचना कपितय न्यायलयो द्वारा भी की गयी है।
    32 साल पूरे होने के पहले ही 1987 में उनका नाम अरबपतियों की फ़ोर्ब्स की सूची में आ गया और कई साल तक वो इस सूची में पहले स्थान पर बने रहे। 2007 में उन्होंने 40 अरब डालर ( लगभग 1760 अरब रूपये) दान में दिए। बिल गेट्स माइक्रोसाफ्ट के चेयरमैन हैं, जिसका साल 2010 में करोबार 63 बिलियन डालर और मुनाफा करीब 19 अरब डालर का रहा।
    बिल गेट्स सृमध्द घर से थे। स्कूल में उन्होंने 1600 में से 1590 नंबर पाए थे पढाई के दौरान ही कंप्यूटर प्रोग्राम बनाकर उन्होंने 4,200 डालर कमा लिए थे और टीचर से कहा था कि मैं 30 वर्ष कि उम्र में करोडपति बनकर दिखाऊंगा और 31 वर्ष में वह अरबपति बन गये। वह विलासितापुर्वक नहीं रहते, लेकिन वह व्यवस्थित जीवन जीते हैं। डेढ़ एकड़ के उनके बंगले में सात बेडरूम , जिम स्विमिंग पूल थियेटर आदि हैं। पन्द्रह साल पहले उसे करीब 60 लाख डालर में खरीदा था। उन्होंने लियोनार्दो दी विंची के पत्रों, लेखों को तीन करोड़ डालर में खरीदा था। ब्रिज, टेनिस और गोल्फ के खिलाडी बिल गेट्स अपने तीन बच्चों के लिए अपनी पूरी जायदाद छोड़कर नहीं जाना चाहते, क्युकि उनका मानना है कि अगर मैं अपनी संपत्ति का एक प्रतिशत भी उनके लिए छोड़ दूँ तो वह काफी होगा। उन्होंने दो किताबें भी लिखीं हैं, द रोड अहेड और बिजनेस @ स्पीड ऑफ़ थोट्स। साल 1994 में उन्होंने अपने कई शेयर्स बेच दिए और एक ट्रस्ट बना लिया, जबकि उन्होंने 2000 में अपने तीन ट्रस्टों को मिलाकर एक कर दिया और पूरी पारदर्शिता से दुनियां भर में जरूरतमंद लोगों की मदद करने लगे। बिल गेट्स की कमी, एकाधिकारी व्यवसायिक निति और प्रतिस्पर्द्धा उन्हें बार - बार विवादों में भी धकेलती रही है। 16 साल तक अरबपतियों की सूची में नंबर वन रह चुके बिल गेट्स अपनी कामयाबी के सूत्र इस तरह बताते हैं।
    13 साल की आयु में उन्हें लेकसाइड स्कूल में डाला गया, जो की एक प्रचलित प्राइवेट स्कूल था। जब वे आठवीं कक्षा में थे, विद्यालय के मदर क्लब ने लेकसाइड स्कूल के रद्दी सामानों की बिक्री से प्राप्त धन का उपयोग विद्यालय के छात्रों के लिए एक ऐ.एस.आर – 33 टेलीपैथी टर्मिनल तथा जनरल इलेक्ट्रिक(जी.ई.) कंप्यूटर पर एक कंप्यूटर प्रोग्राम खरीदने के लिए किया। गेट्स ने बेसिक प्रोग्रामिंग भाषा में (जी.ई.) सिस्टम की प्रोग्रामिंग में रूचि दिखाई और उन्हें उनकी इस रूचि के लिए गणित की कक्षाओं से छूट दी गई। उन्होंने अपना पहला कंप्यूटर प्रोग्राम इस मशीन पर लिखा : जो था टिक-टैक-टो (tic-tac-toe) का उपयोगकर्ता (यूज़र) को कंप्यूटर से खेल खेलने का अवसर प्रदान करता था।
    बिल गेट्स ने जनवरी 2000 में माइक्रोसोफ्ट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी का पद छोड़ दिया। वे अध्यक्ष एवं मुख्य सॉफ्टवेयर वास्तुकार के पद पर बने रहे। जून 2006 में, गेट्स ने घोषणा की कि वह माइक्रोसोफ्ट में पूर्णकालिक कार्यावधी में परिवर्तन कर, माइक्रोसोफ्ट में अंशकालिक कार्य और बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन में पूर्णकालिक कार्य करेंगे। वे अपने कर्तव्यों को क्रमशः रे ओज्जी, सॉफ्टवेयर मुख्य वास्तुकार और क्रेग मुंडी, मुख्य अनुसंधान सह योजना अधिकारी के बीच तबादला करते गए।
    27 जून 2008 गेट्स के लिए माइक्रोसॉफ्ट में अन्तिम पूर्ण दिवस था। वे माइक्रोसॉफ्ट में अंशकालिक, अकार्यकारी अध्यक्ष के रूप में रहते हैं।
    बिल गेट्स (विलियम हेनरी गेट्स III) माइक्रोसॉफ्ट नामक कम्पनी के सह संस्थापक तथा अध्यक्ष है। इनका जन्म 28 अक्टूबर, 1955 को वाशिंगटन के एक उच्च-मध्यम वर्गीय परिवार में हुआ। इनके पिता का नाम विलियम एच. गेट्स तथा माता का नाम मेरी मैक्सवैल था। पिता एक प्रतिष्ठित वकील तथा माता एक बैंक के व्यवस्थापक मंडल की सदस्य थीं।
    वर्ष 1975 में बिल गेट ने पाल एलन के साथ विश्व की सबसे बड़ी साफ्टवेयर कम्पनी की माइक्रोसॉफ्ट की स्थापना की। बिल गेट्स पर्सनल कंप्यूटर क्रान्ति के अग्रिम श्रेणी के उद्यमी माने जाते हैं, तथापि बिल गेट्स की आलोचना उनकी व्यापार रणनीतियोँ के लिए की जाती रही है। एकाधिकार वादी व्यापारिक रणनीति अपनाने की आलोचना कपितय न्यायलयो द्वारा भी की गयी है।
    32 साल पूरे होने के पहले ही 1987 में उनका नाम अरबपतियों की फ़ोर्ब्स की सूची में आ गया और कई साल तक वो इस सूची में पहले स्थान पर बने रहे। 2007 में उन्होंने 40 अरब डालर ( लगभग 1760 अरब रूपये) दान में दिए। बिल गेट्स माइक्रोसाफ्ट के चेयरमैन हैं, जिसका साल 2010 में करोबार 63 बिलियन डालर और मुनाफा करीब 19 अरब डालर का रहा।
    बिल गेट्स सृमध्द घर से थे। स्कूल में उन्होंने 1600 में से 1590 नंबर पाए थे पढाई के दौरान ही कंप्यूटर प्रोग्राम बनाकर उन्होंने 4,200 डालर कमा लिए थे और टीचर से कहा था कि मैं 30 वर्ष कि उम्र में करोडपति बनकर दिखाऊंगा और 31 वर्ष में वह अरबपति बन गये। वह विलासितापुर्वक नहीं रहते, लेकिन वह व्यवस्थित जीवन जीते हैं। डेढ़ एकड़ के उनके बंगले में सात बेडरूम , जिम स्विमिंग पूल थियेटर आदि हैं। पन्द्रह साल पहले उसे करीब 60 लाख डालर में खरीदा था। उन्होंने लियोनार्दो दी विंची के पत्रों, लेखों को तीन करोड़ डालर में खरीदा था। ब्रिज, टेनिस और गोल्फ के खिलाडी बिल गेट्स अपने तीन बच्चों के लिए अपनी पूरी जायदाद छोड़कर नहीं जाना चाहते, क्युकि उनका मानना है कि अगर मैं अपनी संपत्ति का एक प्रतिशत भी उनके लिए छोड़ दूँ तो वह काफी होगा। उन्होंने दो किताबें भी लिखीं हैं, द रोड अहेड और बिजनेस @ स्पीड ऑफ़ थोट्स। साल 1994 में उन्होंने अपने कई शेयर्स बेच दिए और एक ट्रस्ट बना लिया, जबकि उन्होंने 2000 में अपने तीन ट्रस्टों को मिलाकर एक कर दिया और पूरी पारदर्शिता से दुनियां भर में जरूरतमंद लोगों की मदद करने लगे। बिल गेट्स की कमी, एकाधिकारी व्यवसायिक निति और प्रतिस्पर्द्धा उन्हें बार - बार विवादों में भी धकेलती रही है। 16 साल तक अरबपतियों की सूची में नंबर वन रह चुके बिल गेट्स अपनी कामयाबी के सूत्र इस तरह बताते हैं।
    13 साल की आयु में उन्हें लेकसाइड स्कूल में डाला गया, जो की एक प्रचलित प्राइवेट स्कूल था। जब वे आठवीं कक्षा में थे, विद्यालय के मदर क्लब ने लेकसाइड स्कूल के रद्दी सामानों की बिक्री से प्राप्त धन का उपयोग विद्यालय के छात्रों के लिए एक ऐ.एस.आर – 33 टेलीपैथी टर्मिनल तथा जनरल इलेक्ट्रिक(जी.ई.) कंप्यूटर पर एक कंप्यूटर प्रोग्राम खरीदने के लिए किया। गेट्स ने बेसिक प्रोग्रामिंग भाषा में (जी.ई.) सिस्टम की प्रोग्रामिंग में रूचि दिखाई और उन्हें उनकी इस रूचि के लिए गणित की कक्षाओं से छूट दी गई। उन्होंने अपना पहला कंप्यूटर प्रोग्राम इस मशीन पर लिखा : जो था टिक-टैक-टो (tic-tac-toe) का उपयोगकर्ता (यूज़र) को कंप्यूटर से खेल खेलने का अवसर प्रदान करता था।
    बिल गेट्स ने जनवरी 2000 में माइक्रोसोफ्ट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी का पद छोड़ दिया। वे अध्यक्ष एवं मुख्य सॉफ्टवेयर वास्तुकार के पद पर बने रहे। जून 2006 में, गेट्स ने घोषणा की कि वह माइक्रोसोफ्ट में पूर्णकालिक कार्यावधी में परिवर्तन कर, माइक्रोसोफ्ट में अंशकालिक कार्य और बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन में पूर्णकालिक कार्य करेंगे। वे अपने कर्तव्यों को क्रमशः रे ओज्जी, सॉफ्टवेयर मुख्य वास्तुकार और क्रेग मुंडी, मुख्य अनुसंधान सह योजना अधिकारी के बीच तबादला करते गए।
    27 जून 2008 गेट्स के लिए माइक्रोसॉफ्ट में अन्तिम पूर्ण दिवस था। वे माइक्रोसॉफ्ट में अंशकालिक, अकार्यकारी अध्यक्ष के रूप में रहते हैं।

    Read More

  3. बर्नार्ड अरनॉल्ट

    बर्नार्ड जीन एटिने अरनॉल्ट (जन्म 5 मार्च 1949) एक फ्रांसीसी अरबपति बिजनेस मैग्नेट, और आर्ट कलेक्टर हैं। Arnault LVMH Moët Hennessy - Louis Vuitton SE, LVMH, दुनिया की सबसे बड़ी लक्ज़री-गुड्स कंपनी के अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी हैं। अक्टूबर 2019 तक, वह 99 बिलियन डॉलर की संपत्ति के साथ यूरोप का सबसे अमीर और दुनिया का तीसरा सबसे अमीर व्यक्ति है। अप्रैल 2018 में, वह ज़ारा के अमानसिआ ओर्टेगा में शीर्ष पर रहा और फैशन का सबसे अमीर व्यक्ति बन गया।

    Read More

  4. वॉरेन बफे

    वॉरेन एडवर्ड बफेट (अगस्त 30 (August 30), 1930 को ओमाहा (Omaha), नेब्रास्का में पैदा हुए) एक अमेरिकी निवेशक (investor), व्यवसायी और परोपकारी (philanthropist) व्यक्तित्व हैं।
    उन्हें शेयर बाज़ार (stock market) की दुनिया के सबसे महान निवेशकों में से एक माना जाता है और वो बर्कशायर हैथवे (Berkshire Hathaway) कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) और सबसे बड़े शेयर धारक (shareholder) हैं।फरवरी 11, 2008 तक, अनुमानतः 62 अरब अमेरिकी डालर की कुल संपत्ति (net worth) के कारण फोर्ब्स (Forbes) द्वारा उन्हें दुनिया का सबसे अमीर आदमी (richest person in the world) आंका गया था।

    अक्सर 'ओमाहा के ओरेकल, ' कहा जाता है।
    अथाह संपत्ति (wealth) होने के बावजूद बफेट को उनके मूल्य परस्त निवेश (value investing) के सिद्धांत और व्यक्तिगत मितव्ययिता (frugality) के कारण जाना जाता है।
    उनका 2006 का वार्षिक वेतन (salary) लगभग 1,00,000 डॉलर था, जो की उनके जैसी अन्य कंपनियों के वरिष्ठ कार्यकारियों के पारिश्रमिक (executive remuneration) की तुलना में काफी कम है।
    जब उन्होंने बर्क शायर की धनराशी में से 97 लाख डालर 1989 में एक व्यवसायिक विमान (business jet) मँगाने के लिए खर्च किए थे तब उन्होनें मजाक में उसका नाम 'असमर्थनीय' रक्खा था, क्योंकि पूर्व में वो स्वंयम ही अन्य मुख्य अधिकारीयों की इसी सन्दर्भ में आलोचना कर चुके थे। वो आज भी ओमाहा के केंद्रीय डुंडी (Dundee) के पड़ोस के उसी मकान में रह रहे हैं जो उन्होनें 1958 में 31500 डालर में ख़रीदा था, जिसकी कीमत आज 7 लाख डालर है।

    बफेट एक विख्यात परोपकारी भी है। 2006 में उन्होनें नें अपनी संपत्ति को दान में देने की योजना घोषणा की थी, जिसके अनुसार 83% बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन (Bill & Melinda Gates Foundation) को जाना था। 2007 में उन्हें टाइम (Time) द्वारा विश्व के 100 सबसे अधिक प्रभावशाली व्यक्तियों (100 Most Influential People) में रक्खा गया था। वो ग्रिनेल्ल कालेज (Grinnell College) के न्यासियों के बोर्ड के सदस्य के रूप में भी सेवारत हैं।

    Read More

  5. अमानसियो ओर्टेगा

    Amancio Ortega Gaona (स्पेनिश उच्चारण: [aθmanɾˈjo oɣteoa ɣa bornona], जन्म 28 मार्च 1936) एक स्पेनिश अरबपति व्यवसायी है। वह Inditex फ़ैशन समूह के संस्थापक और पूर्व अध्यक्ष हैं, जिन्हें ज़ारा कपड़ों और सामान की दुकानों की श्रृंखला के लिए सबसे अच्छा जाना जाता है। अक्टूबर 2019 तक, ओर्टेगा की कुल संपत्ति $ 70.2 बिलियन थी, जो उसे बर्नार्ड अरनॉल्ट के बाद यूरोप का दूसरा सबसे धनी व्यक्ति और दुनिया का पांचवा सबसे धनी व्यक्ति बना। 2015 में कुछ समय के लिए, वह बिल गेट्स को दरकिनार करते हुए दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति थे, जब उनकी कीमत Zara की मूल कंपनी Inditex के शेयर के रूप में $ 80 बिलियन तक पहुंच गई।ओर्टेगा दुनिया का सबसे धनी retailer भी है।

    Read More

  6. मार्क ज़ुकेरबर्ग

    मार्क एलियट ज़ुकेरबर्ग (अंग्रेज़ी: Mark Elliot Zuckerburg, जन्म मई 14, 1984) एक अमेरिकेन उद्यमी और सामाजिक नेट्वोर्किंग साईट फेसबुक के सह-स्थापना के लिए प्रसिद्ध व्यक्ति हैं। ज़ुकेरबर्ग ने फेसबुक की सह- स्थापना अपने सह-विद्यार्थियों डस्टिन मोस्कोवित्ज़, एडुँर्दो सवेरिन और क्रिस हुग्हेस के साथ मिलकर की थी जब वे सब में हार्वर्ड में नियमित रूप से जा रहे थे।

    Read More

  7. लैरी एलिसन

    लॉरेंस जोसेफ एलिसन (जन्म 17 अगस्त, 1944) एक अमेरिकी व्यापारी, उद्यमी और परोपकारी है, जो ओरेकल कॉरपोरेशन के सह-संस्थापक और कार्यकारी अध्यक्ष और मुख्य प्रौद्योगिकी अधिकारी (सीटीओ) हैं। अक्टूबर 2019 तक, उन्हें फोर्ब्स पत्रिका द्वारा संयुक्त राज्य में चौथे सबसे धनी व्यक्ति के रूप में और दुनिया के छठे-सबसे धनी व्यक्ति के रूप में सूचीबद्ध किया गया, $ 69.1 बिलियन का भाग्य, 2018 में $ 54.5 बिलियन से बढ़ा।

    Read More

  8. माइकल ब्लूमबर्ग

    माइकल रूबेन्स ब्लूमबर्ग, केबीई (जन्म 14 फरवरी, 1942) एक अमेरिकी व्यवसायी, राजनीतिज्ञ, लेखक और परोपकारी व्यक्ति हैं। अक्टूबर 2019 तक, उनकी कुल संपत्ति 51.1 बिलियन डॉलर आंकी गई, जिससे वह संयुक्त राज्य अमेरिका में 12 वें सबसे अमीर व्यक्ति और दुनिया के 17 वें सबसे अमीर व्यक्ति बन गए। वह द गिविंग प्लेज में शामिल हो गए, जिससे अरबपति अपनी कम से कम आधी संपत्ति देने की प्रतिज्ञा करते हैं। तिथि करने के लिए, ब्लूमबर्ग ने $ 8.2 बिलियन का पुरस्कार दिया है, जिसमें छात्र सहायता के लिए जॉन्स हॉपकिन्स विश्वविद्यालय को नवंबर 2018 $ 1.8 बिलियन का उपहार भी शामिल है - एक उच्च शिक्षा संस्थान को अब तक का सबसे बड़ा निजी दान।

    ब्लूमबर्ग एक संस्थापक, सीईओ और ब्लूमबर्ग एलपी के मालिक हैं, जो एक वैश्विक वित्तीय सेवाओं, सॉफ्टवेयर और मास मीडिया कंपनी है जो अपना नाम रखती है, और अपने ब्लूमबर्ग टर्मिनल के लिए उल्लेखनीय है, जो एक कंप्यूटर सॉफ्टवेयर सिस्टम है जो वैश्विक रूप से व्यापक रूप से वित्तीय डेटा प्रदान करता है। वित्तीय सेवा उद्योग। उन्होंने 1981 में अपनी कंपनी बनाने से पहले सिक्योरिटी ब्रोकरेज सालोमन ब्रदर्स में अपना करियर शुरू किया और अगले बीस साल इसके अध्यक्ष और सीईओ के रूप में बिताए। ब्लूमबर्ग ने 1996 से 2002 तक अपने अल्मा मेटर, जॉन्स हॉपकिन्स विश्वविद्यालय में न्यासी मंडल के अध्यक्ष के रूप में भी कार्य किया।

    Read More

  9. लैरी पेज

    लॉरेंस "लैरी" पेज (जन्म 26 मार्च 1973) एक अमेरिकी कंप्यूटर वैज्ञानिक और उद्योगपति हैं, जिन्होंने सर्गी ब्रिन के साथ मिलकर गूगल इंक. की सह-स्थापना की। वे दोनों अक्सर ही "Google Guys" के नाम से जाने जाते हैं। फ़ोर्ब्स के मुताबिक संप्रति वे दुनिया के 24वें सबसे धनी व्यक्ति हैं, जिनकी 2010 में कुल निजी संपत्ति US$17.5 बिलियन है।
    1998 में, ब्रिन और पेज ने Google Inc. की स्थापना की। 2001 में एरिक श्मिट को Google का अध्यक्ष और CEO बनाने से पहले, पेज ने ब्रिन के साथ मिलकर Google के सह-अध्यक्ष के रूप में काम किया। पेज और ब्रिन दोनों ही सालाना मुआवजे के रूप में एक डॉलर कमाते हैं।
    पेज ने 8 दिसम्बर 2007 को रिचर्ड ब्रान्सन के कैरिबियाई द्वीप, नेकर द्वीप पर लुसिंडा साउथवर्थ से शादी की। ब्रिन और पेज फ़िल्म ब्रोकेन ऐरोज़ के कार्यकारी निर्माता हैं। 2004 में, उन्हें और सर्गी ब्रिन को ABC वर्ल्ड न्यूज़ तुनाईट द्वारा "पर्सन्स ऑफ़ दी वीक" नामित किया गया।
    2009 के मिशिगन यूनिवर्सिटी के प्रारंभिक समारोह में लैरी पेज ने अपना वक्तव्य दिया, जिस समय उन्हें डॉक्टर ऑफ़ इंजीनियरिंग की मानद उपाधि भी प्राप्त हुई।
    2003 में, ब्रिन और पेज दोनों को ही IE बिज़नेस स्कूल द्वारा "उद्यमशीलता की भावना को संगठित करने और नए व्यवसायों के सृजन को गति प्रदान करने के लिए…." MBA की मानद उपाधि दी गई। और 2004 में, उन्होंने मारकोनी फाउंडेशन पुरस्कार हासिल किया, जो "इंजीनियरिंग का सर्वोच्च पुरस्कार" है, तथा वे कोलंबिया यूनिवर्सिटी में मारकोनी फाउंडेशन के फेलो निर्वाचित हुए. "उनके चयन की घोषणा करते हुए, फाउंडेशन के अध्यक्ष जॉन जे आइसलिन ने दोनों को उनके इस आविष्कार के लिए बधाई दी, जिसने आज जानकारी पुनःप्राप्त करने के तरीके को मूलतः बदल दिया है।" वे "32 विश्व के सर्वाधिक प्रभावशाली संचार प्रौद्योगिकी अग्रगामियों का चयनित संवर्ग…" में शामिल हुए.[20] 2005 में, ब्रिन और पेज को अमेरिकन अकेडमी ऑफ़ आर्ट्स एंड साइंस का सदस्य चुना गया।
    वर्ल्ड इकोनोमिक फोरम ने पेज को ग्लोबल लीडर फॉर टुमॉरो नामित किया और X प्राइज़ ने पेज को अपने मंडल का ट्रस्टी चुना। [8] PC मैगज़ीन ने Google को 100 शीर्ष वेब साइट्स और सर्च इंजनों में से एक बताकर उसकी प्रशंसा की (1998) और 1999 में वेब एप्लीकेशन डेवेल्प्मेंट के नवोन्मेष के लिए Google को टेक्निकल एक्सलेंस पुरस्कार से सम्मानित किया। 2000 में, Google ने एक वेब्बी अवार्ड जीता, जो तकनीकी उपलब्धि के लिए पीपल्स वॉईस पुरस्कार था और 2001 में उसे उत्कृष्ट खोज सेवा, सर्वश्रेष्ठ छवि खोज इंजन, सर्वश्रेष्ठ डिज़ाइन, अधिक वेबमास्टर अनुकूल खोज इंजन और सर्वश्रेष्ठ खोज फ़ीचर के लिए सर्च इंजन पुरस्कार से नवाज़ा गया।"
    2009 के वर्गीय प्रारंभिक समारोह अभ्यास के दौरान, लैरी पेज को 2 मई 2009 में यूनिवर्सिटी ऑफ़ मिशिगन से डॉक्टरेट की मानद उपाधि प्राप्त हुई.
    उनके एक डॉलर प्रति वर्ष के मुआवज़े के बाद भी, 2009 में वे फ़ोर्ब्स की विश्व के अरबपतियों की सूची में 26वें स्थान पर और अमेरिका के 11वें रईस व्यक्ति थे।
    2009 में, ब्रिन और पेज को 'फोर्ब्स' की "दी वर्ल्ड्स मोस्ट पावरफुल पीपल" में पांचवें स्थान पर रखा गया।

    Read More

  10. कार्लोस स्लिम

    मैक्सिको के धनी उद्योगपति कार्लोस स्लिम हेलू को फोब्र्स द्वारा मार्च, 2010 में जारी दुनिया के अरबपतियों की सूची में पहले स्थान पर रखा गया। उनकी कुल संपत्ति 53.5 अरब डॉलर आंकी गई, जिसके चलते उन्होंने माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स को अपदस्थ कर सूची में पहला स्थान पर कब्जा किया। दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति बनने वाले कार्लोस मैक्सिको के पहले व्यक्ति हैं।

    Read More

  11. सर्गी ब्रिन

    सर्गी मिखायलोविच ब्रिन (रूसी : Серге́й Миха́йлович Брин) जन्म - 21 अगस्त 1973, एक रूसी अमेरिकी कंप्यूटर वैज्ञानिक, सॉफ्टवेयर डेवलपर और उद्यमी हैं जिन्हें लैरीपेज के साथ गूगल, इंक. के सह-संस्थापक के रूप में अधिक जाना जाता है, जो अपने खोज इंजन और ऑनलाइन विज्ञापन प्रौद्योगिकी के आधार पर विश्व की सबसे बड़ी इंटरनेट कंपनी है।

    ब्रिन छह साल की उम्र में रूस से संयुक्त राज्य अमेरिका में आकर बस गए। उन्होंने मैरीलैंड विश्वविद्यालय से पूर्वस्नातक की डिग्री प्राप्त की, उन्होंने अपने पिता और दादा जी के नक्शेकदम पर चलते हुए गणित का अध्ययन किया और कंप्यूटर विज्ञान में दोहरी डिग्री हासिल की. स्नातक स्तर की पढ़ाई के बाद पीएच.डी की पढ़ाई के लिए वे स्टैनफोर्ड चले गए। उनकी पीएच.डी का विषय कंप्यूटर विज्ञान था। वहां उनकी मुलाकात लैरी पेज से हुई और बाद में वे दोस्त बन गए। उन्होंने अपने कमरे को सस्ते कंप्यूटरों से भर दिया और बेहतर खोज इंजन के निर्माण के लिए ब्रिन की डाटा माइनिंग प्रणाली को लागू किया। यह प्रोग्राम स्टैनफोर्ड में काफी लोकप्रिय हो गया और उन्होंने अपनी पीएचडी को स्थगित कर दिया और एक किराए के गैरेज में गूगल की शुरुआत की.

    द इकोनोमिस्ट ने ब्रिन को एक 'एनलाइटेनमेंट मैन' के रूप में संदर्भित किया और ऐसा व्यक्ति बताया जो मानता है कि 'ज्ञान हमेशा अच्छा होता है और निश्चित रूप से अज्ञानता से बेहतर होता है', एक ऐसा दर्शन जो गूगल द्वारा दुनिया भर की सूचनाओं को 'सार्वभौमिक रूप से सुलभ कराने और उपयोगी' बनाने के लक्ष्य और 'दुष्ट ना बनें' में निहित है।

    Read More

  12. फ्रेंकोइस बेटनकोर्ट मेयर्स

    फ्रेंकोइस बेट्टेंकोर्ट मेयर्स एक फ्रांसीसी अरबपति उत्तराधिकारी और बाइबल कमेंट्रीज़ लेखक हैं , साथ ही फ्रेंकोइस यहूदी-ईसाई संबंधों पर काम करती है। वह लिलियन बेटेनकोर्ट की एकमात्र बेटी और उत्तराधिकारी है, और उसका परिवार L'Oreal कंपनी का मालिक है। फ्रेंकोइस जीन-पियरे मेयर्स से शादी की | उन्होंने अपने बच्चों को यहूदी के रूप में पालने का फैसला किया। उनके विवाह काफी विवादित रहा क्योंकि फ्रेंकोइस के दादा और लोरियल कंपनी के संस्थापक यूजीन शूएलर पर नाजी सरकार के साथ सहयोग के आरोप थे |
      फोर्ब्स के अनुसार, अक्टूबर 2019 तक, वह दुनिया की सबसे अमीर महिला हैं, जिनकी अनुमानित संख्या $ 53.0 बिलियन है।

    Read More

  13. स्टीव बाल्मर

    स्टीवन एंथोनी "स्टीव" बाल्मर (जन्म 24 मार्च 1956) जनवरी 2000 से माईक्रोसॉफ्ट कार्पोरेशन (Microsoft Corporation) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रहे हैं।अक्टूबर 2019 तक, उनकी व्यक्तिगत संपत्ति 51.9 बिलियन अमेरिकी डॉलर आंकी गई है, जिससे वह दुनिया के 16 वें सबसे अमीर व्यक्ति हैं।

    बाल्मर को बिल गेट्स ने 1980 में माइक्रोसॉफ्ट में काम पर रखा था और बाद में स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में एमबीए प्रोग्राम छोड़ दिया। वह अंततः 1998 में राष्ट्रपति बने, और 2000 में गेट्स को सीईओ के रूप में प्रतिस्थापित किया। 4 फरवरी 2014 को, बाल्मर ने सीईओ के रूप में सेवानिवृत्त हुए और एक नए वर्ग को पढ़ाने की तैयारी के लिए 19 अगस्त, 2014 को निदेशक मंडल से इस्तीफा दे दिया।

    29 मई 2014 को एनबीए के आयुक्त एडम सिल्वर द्वारा डोनाल्ड स्टर्लिंग को टीम को बेचने के लिए मजबूर करने के बाद, बाल्मर ने एनबीए के लॉस एंजिल्स क्लिपर्स को खरीदने के लिए $ 2 बिलियन की बोली लगाई। वह 12 अगस्त 2014 को क्लिपर्स के मालिक बन गए; माइक्रोसॉफ्ट के सह-संस्थापक पॉल एलन एनबीए में एक साथी मालिक थे, जिनके पास पोर्टलैंड ट्रेल ब्लेज़र्स का 1988 से स्वामित्व था।

    Read More

  14. एलिस वाल्टन

    ऐलिस लुईस वाल्टन (जन्म 7 अक्टूबर, 1949) Walmart Inc की उत्तराधिकारी है। वह वॉलमार्ट के संस्थापक सैम वाल्टन और हेलेन वाल्टन की बेटी हैं और एस रॉबसन वाल्टन, जिम वाल्टन और दिवंगत जॉन टी वाल्टन की बहन हैं। ।सितंबर 2016 में, उसके पास वॉलमार्ट के शेयरों में 11 बिलियन अमेरिकी डॉलर का स्वामित्व था। अप्रैल 2019 के बाद, वह दुनिया की 18 वीं सबसे अमीर व्यक्ति और अनुमानित $ 45 बिलियन संपत्ति के साथ दूसरी सबसे अमीर महिला है।

    Read More

  15. मुकेश अंबानी

    मुकेश अंबानी (जन्म 19 अप्रैल 1957 को यमन में) एक भारतीय व्यवसायी हैं और फ़ोर्ब्स सूची के अनुसार 2018 में लगभग 40.1 अरब डॉलर की निजी सम्पत्ती के साथ दुनिया के सबसे अमीर लोगों में से एक हैं। वे रिलायंस इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष, प्रबंध निदेशक और कंपनी के सबसे बड़े शेयर धारक हैं। यह भारत में निजी क्षेत्र की सबसे बड़ी तथा फोर्च्यून 500 कंपनी है। रिलायंस इंडस्ट्रीज में उनकी व्यक्तिगत हिस्सेदारी 48 % है। उनकी संपत्ति का मूल्य (फोर्ब्स के अनुसार) 40.1 अरब अमेरिकी डॉलर है, जिस से वे भारत के सबसे अमीर आदमी साबित होते हैं।तथा उनकी कंपनी रिलायंस जियो भारत की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी है। मुकेश और उनके छोटे भाई अनिल रिलायंस इंडस्ट्रीज के संस्थापक स्वर्गीय धीरू भाई अम्बानी के बेटे हैं। मुकेश इंडियन प्रीमियर लीग की टीम मुंबई इंडियंस के मालिक भी हैं।

    Read More

  16. चार्ल्स कोच

    चार्ल्स डी गेनल कोच (/ ko Gank /; जन्म 1 नवंबर, 1935) एक अमेरिकी व्यापारी, राजनीतिक दाता और परोपकारी हैं। मार्च 2019 तक, वह दुनिया में 11 वें सबसे अमीर व्यक्ति के रूप में रैंक किया गया था, जिसकी अनुमानित कमाई $ 50.5 बिलियन थी। कोच 1967 से कोच इंडस्ट्रीज के सह-मालिक, अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी रहे हैं, जबकि उनके दिवंगत भाई डेविड कोच कार्यकारी उपाध्यक्ष के रूप में कार्य करते थे। चार्ल्स और डेविड प्रत्येक समूह के 42% के मालिक थे। भाइयों को अपने पिता फ्रेड सी कोच से विरासत में कारोबार मिला, फिर कारोबार का विस्तार किया। व्यवसाय प्रसिद्ध ब्रांडों की एक विस्तृत विविधता का उत्पादन करते हैं, जैसे कि स्टेनमास्टर कालीन, स्पैन्डेक्स फाइबर का लाइक्रा ब्रांड, क्विल्टेड उत्तरी ऊतक और डिक्सी कप।

    कोच फ़ॉर्म्स 2010 की फोर्ब्स सर्वे के अनुसार संयुक्त राज्य में राजस्व के हिसाब से दूसरी सबसे बड़ी निजी कंपनी है। फरवरी 2014 में, कोच हुरुन रिपोर्ट द्वारा 36 बिलियन डॉलर की शुद्ध संपत्ति के साथ दुनिया के 9 वें सबसे अमीर व्यक्ति का स्थान प्राप्त किया गया था। इससे पहले, अक्टूबर 2012 में, वह दुनिया में 6 वें सबसे अमीर व्यक्ति थे, जिनकी अनुमानित कुल संपत्ति 34 बिलियन डॉलर थी - ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स के अनुसार -और 2011 की फोर्ब्स वर्ल्ड बिलियनेयर्स लिस्ट में 18 वें स्थान पर थी , $ 25 बिलियन की अनुमानित निवल संपत्ति के साथ, कोच इंडस्ट्रीज में अपनी 42% हिस्सेदारी से व्युत्पन्न है। कोच ने अपने व्यापार दर्शन, सफलता का विज्ञान, मार्केट बेस्ड मैनेजमेंट,और गुड प्रॉफिट पर विस्तार से तीन पुस्तकें प्रकाशित की हैं।

    Read More

  17. जैक मा

    जैक मा , या मा यूं ( चीनी : 马云 ; [mà yn] जन्म 10 सितंबर 1964), चीन के सबसे अमीर व्यक्ति हैं एशिया की दूसरी सबसे अमीर व्यक्ति हैं और एक सेवानिवृत्त चीनी व्यापार थैलीशाह, निवेशक, राजनीतिज्ञ और परोपकारी है। वह एक बहुराष्ट्रीय प्रौद्योगिकी समूह , अलीबाबा ग्रुप के सह-संस्थापक और पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष हैं ।2 फरवरी 2019 तक, वह चीन का सबसे अमीर आदमी है, जिसकी कुल संपत्ति 41.1 बिलियन डॉलर है, साथ ही यह दुनिया के सबसे धनी लोगों में से एक है और फोर्ब्स पत्रिका की दुनिया के सबसे शक्तिशाली लोगों में दुनिया में 21 वें स्थान पर है।

    Read More

  18. मा हतेंग

    मा हतेंग (चीनी: 马化腾; पिनयिन: Mà Huàténg), जिनका जन्म 29 अक्टूबर, 1971 को हुआ था), जिन्हें पोनी मा के नाम से भी जाना जाता है, एक चीनी व्यवसाय मैग्नेट, निवेशक, राजनीतिज्ञ और परोपकारी व्यक्ति हैं। वह एशिया की सबसे मूल्यवान कंपनी, सबसे बड़ी इंटरनेट और प्रौद्योगिकी कंपनियों में से एक Tencent के संस्थापक, अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं, और यह दुनिया में सबसे बड़ा निवेश, गेमिंग और मनोरंजन समूह है। कंपनी चीन की सबसे बड़ी मोबाइल इंस्टेंट मैसेजिंग सेवा को नियंत्रित करती है और इसकी सहायक कंपनियां मीडिया, मनोरंजन, भुगतान प्रणाली, स्मार्टफोन, इंटरनेट से जुड़ी सेवाएं, मूल्य वर्धित सेवाएं और ऑनलाइन विज्ञापन सेवाएं दोनों चीन और विश्व स्तर पर उपलब्ध कराती हैं।

    अगस्त 2019 तक, वह चीन के सबसे अमीर आदमी हैं, और दुनिया में 20 वें सबसे धनी व्यक्ति हैं, जिनकी कुल संपत्ति $ 37.7 बिलियन है। 21 नवंबर 2017 को, उन्होंने लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन दोनों को पीछे छोड़ते हुए दुनिया के नौवें सबसे अमीर आदमी बन गए और फोर्ब्स की शीर्ष 10 सबसे अमीर पुरुषों की सूची में प्रवेश करने वाले पहले चीनी हैं।

    Read More

अगर आपको इस सूची में कोई भी कमी दिखती है अथवा आप कोई नयी प्रविष्टि इस सूची में जोड़ना चाहते हैं तो कृपया नीचे दिए गए कमेन्ट बॉक्स में जरूर लिखें |