गैर कानूनी धंधो से शुरुआत करने के बाद धीरे धीरे अपनी हुकूमत बनाने , लोगों को धमकाने और फिर अंत में समाज के दुश्मन हो जाना ही एक आतंकवादी होने की सीढियाँ हैं | लोगों को, स्त्रियों को , युवाओं को धर्म के नाम भर भटका कर अथवा कुछ अन्य व्यक्तिगत लालच देकर आत्मघाती हमलावर बना देना तथा शहरों, सरकारों और देशों को अपने धमाकों की आहट से डरा व बर्बाद कर देना ही इनका काम रह जाता है |

आज हम ऐसे ही कुछ मानवता के दुश्मनों की सूची लेकर आये हैं जोकि भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी द्वारा मोस्ट वांटेड हैं |

  1. हाफिज मोहम्मद सईद

    Like Dislike Button
    1Votes

    हाफिज मोहम्मद सईद का जन्म पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के सरगोधा में 10 मार्च 1950 को हुआ था। हाफिज मोहम्मद सईद आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का संस्थापक और वर्तमान में जमात-उद-दावा से सम्बंधित है। वह भारत की सर्वाधिक वांछित अपराधियों की सूची में शामिल है। मुंबई की 26/11 हमले में उसका हाथ होने की बात सामने आई थी जिसमें छह अमेरिकी नागरिक समेत 166 लोग मारे गए थे। 1987 में उसने अब्दुल्लाह आजम और जफर इकबाल के साथ मिल कर लश्कर-ए-तैयबा नाम से आतंकी संगठन बनाया था। वह तभी से भारत के खिलाफ साजिश रच रहा है और आतंकी वारदातों को अंजाम दे रहा है। अमेरिका ने दुनिया में ‘आंतकवाद के लिए जिम्मेदार’ लोगों की सूची जारी की है उसमें हाफिज सईद का भी नाम है। उस पर अमेरिका ने एक करोड़ डॉलर का इनाम घोषित कर रखा है।

    Read More

  2. दाउद इब्राहिम

    Like Dislike Button
    1Votes

    दाउद इब्राहिम भारत का एक कुख्यात तस्कर है। दाऊद इब्राहिम का जन्म 27 दिसंबर 1955 को महाराष्ट्र के रत्नागिरी जिले में हुआ था। दाऊद ने स्कूल स्तर पर ही पढ़ाई छोड़ दी थी। अपने शौक और बुरी आदतों के लिए दाऊद ने बचपन में ही ड्रग्स स्पलाई, चोरी, डकैती, लूटपाट इत्यादि करना शुरु कर दिया। दाऊद ने अपने आपराधिक करियर की शुरुआत करीम लाला के गैंग से की थी जो उस वक्त मुंबई का जाना माना अपराधी हुआ करता था। डी-कंपनी शुरू करने के बाद दाऊद जुर्म की दुनिया का इतना बड़ा नाम बन गए कि सबसे खतरनाक अपराधियों की लिस्ट में उनका नाम तीसरे नंबर पर है। कुछ लोगों का मानना है कि दाऊद को पाकिस्तानी ख़ुफ़िया एजेंसी, ISIS आसरा देती है और इसीलिए आज तक दाऊद पकड़ में नहीं आये हैं। 2008 के मुंबई ब्लास्ट में भी दाऊद का नाम है, साथ ही 1993 मुंबई बम धमाकों के पीछे भी उनका ही दिमाग था। दाऊद के जीवन पर अब तक डी, डी-डे, वंस अपोन एक टाइम इन मुंबई, शूटआउट इन लोखंडवाला और ब्लैक फ्राइडे जैसी फिल्में बन चुकी हैं।

    Read More

  3. अनीस इब्राहिम

    Like Dislike Button
    1Votes

    दाउद इब्राहिम का छोटा भाई शेख अनीस इब्राहिम दाउद इब्राहिम का सबसे भरोसेमंद आदमी है। वह दुबई में अपने भाई की डी-कंपनी के बिज़नेस की देखभाल करता है। वह ड्रग्स की तस्करी, वसूली, कॉन्ट्रैक्ट किलिंग और मनी लॉन्ड्रिंग के काले धंधों में शामिल है। साथ ही उस पर मुंबई धमाकों में भी लिप्त होने का आरोप है। 2009 में गैंगवॉर में उसको गोली लगी थी, तबसे उसके बारे में कुछ ज्यादा जानकारी नहीं है।

    Read More

  4. छोटा शकील

    Like Dislike Button
    1Votes

    दाऊद इब्राहिम का दायां हाथ के नाम से जाना जाने वाला छोटा शकील दक्षिण एशियाई देशों में दाऊद के गैरकानूनी धंधे चलाता है। वह दाऊद का इतना खास है कि उसका उत्तराधिकारी तक माना जा रहा है। सितंबर 2000 में शकील ने छोटा राजन पर हमले की योजना बनाने की बात कबूली थी। 2001 में उसने हिंदी फिल्मों में पैसा लगाने की बात भी कबूली थी। जुलाई 2015 में सीनियर ऐडवोकेट राम जेठमलानी ने यह कहकर तहलका मचा दिया था कि मुंबई ब्लास्ट के तुरंत बाद दाऊद और छोटा शकील सरेंडर करने के लिए तैयार थे लेकिन महाराष्ट्र के तत्कालीन मुख्यमंत्री शरद पवार ने यह पेशकश ठुकरा दी थी।

    Read More

  5. मसूद अज़हर

    Like Dislike Button
    1Votes

    मसूद अज़हर आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का स्थापक और नेता है। जैश-ए-मोहम्मद जिसे संक्षेप में जैश भी कहते हैं पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में सक्रिय एक आतंकी संगठन है। पाकिस्तानी अधिकारियों ने भारत में हुए पठानकोट हमले के बाद उसे हिरासत में ले लिया था। पहले अजहर भारत की कस्टडी में था लेकिन 31 दिसंबर 1999 में कंधार एयरपोर्ट पर कुछ भारतीय विमान यात्रियों के बदले में मौलाना मसूद अजहर को रिहा किया गया। भारत ने मसूद अजहर को उसकी आतंकी गतिविधियों की वजह से उसे अपने सबसे वांक्षित आतंकवादियों की सूची में रखा हुआ है। 2003 में जैश-ए-मोहम्मद खुद्दाम-उल-इस्लाम और जमात-उल-फुरकान में बट गया। इसके बाद पाकिस्तान ने नवंबर 2003 में दोनों को बैन कर दिया।

    Read More

  6. टाइगर मेमन

    Like Dislike Button
    0 Votes

    इब्राहिम मुश्ताक अब्दुल रज्जाक नादिम मेमन उर्फ टाइगर मेमन का जन्म 1960 में हुआ। 1993 के मुंबई सीरियल ब्लास्ट को अंजाम देने वाला मुख्य आरोपी टाइगर मेमन इंटरपोल और CBI दोनों की मोस्ट वॉन्टेड लिस्ट में शामिल है। CBI के मुताबिक टाइगर और उसके भाई दुबई में दाऊद के भाई अनीस इब्राहिम के साथ मिलकर कंस्ट्रक्शन बिजनस और कुछ दुकानें चला रहे हैं। पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI द्वारा कथित रूप से पाकिस्तानी आइडेंटिटी दिए जाने के बाद से वह कराची भी आता-जाता रहता है। इसे सालों से इंटरपोल और सीबीआई दोनों ही खोज रही हैं, लेकिन दोनों के ही पास सिवाय एक तस्वीर के और कुछ नहीं है।

    Read More

  7. साजिद मीर

    Like Dislike Button
    0 Votes


    साजिद मीर लश्कर का विदेशी भर्ती करने वाला सदस्य और लश्कर का प्रमुख सदस्य है। इंटरपोल के अनुसार साजिद मीर 38 साल का पाकिस्तानी मूल का नागरिक है, जो आपराधिक षड्यंत्रों, आतंकवाद और देश के खिलाफ युद्ध छेड़ने का दोषी है। हेडली ने बताया कि साजिद मीर ने उसे भारत में एक ऑफिस सेट करने के लिए कहा था। इसका मकसद भारत में एक ठिकाना तैयार करना था। हेडली ने भारत में अपना बिजनेस स्थापित करने के लिए पांच साल का वीजा लिया था। हेडली और साजिद मीर हमलों की योजना के बनाने से पहले से एक दूसरे को जानते थे। वो लश्कर का एक अहम कमांडर था और उसने लश्कर की थाईलैंड में एक शाखा भी बनायी थी। हेडली ने साजिद के बारे में बताते हुए कहा कि वो काफी चतुर था और वो लश्कर में मेरा पहला हैंडलर था। साजिद मीर की मौजूदा लोकेशन पाकिस्तान के मुरीदके में बताई जा रही है।

    Read More

  8. जकी-उर-रहमान लखवी

    Like Dislike Button
    0 Votes

    लश्कर-ए-तैयबा का एक शीर्ष नेता जकी-उर-रहमान लखवी वर्तमान में कश्मीर में संचालन के सर्वोच्च कमांडर और लश्कर के जनरल परिषद के सदस्य के रूप में कार्य करता है। वह एनआईए मोस्ट वांटेड लिस्ट में शामिल है। लखवी पंजाब के ओकारा जिले में 1960 में पैदा हुआ था। 2006 में उसने लश्कर के सदस्यों को आत्मघाती बम विस्फोटों के लिए प्रशिक्षण देना शुरू किया।

    Read More

  9. मेजर इकबाल

    Like Dislike Button
    0 Votes

    मुंबई हमले के संदर्भ में अमेरिका की एक अदालत में आरोपी बनाया गया पाकिस्तानी नागरिक मेजर इकबाल पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी इंटर सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) का अधिकारी था। शिकागो की अदालत में दायर आरोप पत्र में मेजर इकबाल को मुंबई हमले का मुख्य षड्यंत्रकारी बताया गया है। मेजर इकबाल मुंबई हमले की साजिश के संदर्भ में डेविड कोलमैन हेडली को आर्थिक मदद देने के साथ ही उसे दिशानिर्देश भी देता रहा। मेजर इकबाल को पाकिस्तानी नागरिक बताया गया है, लेकिन अमेरिकी एवं भारतीय अधिकारियों का कहना है कि वह आईएसआई निदेशालय में काम करता था। मेजर इकबाल मुंबई हमले की साजिश रचने के दौरान हेडली को कथित तौर पर निरंतर आदेश देता रहा। उस पर आतंकवाद के लिए युवकों को भर्ती करने उन्हें प्रशिक्षण देने और फिर हमलों के लिए भेजने का भी आरोप है।

    Read More

  10. सईद सलाउद्दीन

    Like Dislike Button
    0 Votes

    सैयद मुहम्मद यूसुफ शाह जिसे के सईद सलाहुद्दीन के नाम से भी जाना जाता है , एक कश्मीरी अलगाववादी संगठन हिज्बुल मुजाहिद्दीन का हेड है | घाटी में आत्मघाती हमलावरों को ट्रेंनिंग देना तथा भारत विरोधी गतिविधियों की रणनीतियां तैयार करना इसके प्रमुख कार्य हैं | साल 2017 में इसे ग्लोबल टेररिस्ट घोषित किया गया , जिसके तुरंत बाद इसने पाकिस्तान के मुज़फ्फराबाद में एक मीडिया इंटरव्यू में कहा कि इस हरकत के द्वारा अमेरिका, इजरायल और भारत ने मिलकर पाकिस्तान के प्रति अपने द्वेष को ज़ाहिर किया है |

    Read More

अगर आपको इस सूची में कोई भी कमी दिखती है अथवा आप कोई नयी प्रविष्टि इस सूची में जोड़ना चाहते हैं तो कृपया नीचे दिए गए कमेन्ट बॉक्स में जरूर लिखें |