अच्छे गाने में सुरीली आवाज़ का जादू बखेरने के लिए एक महिला गायक आवश्यकता होती है जिसकी आवाज़ में मिठास घुली हो और जो गाना सुनते ही दिल पिघल सा जाये |
तो आज हम आपके लिए ऐसी ही कुछ पार्श्व गायिकाओं की सूची लाये हैं जो सिर्फ और सिर्फ अपनी आवाज़ के लिए ही सम्पूर्ण भारतवर्ष ही नहीं अपितु विश्व के अन्य देशों में भी जानी जाती हैं |

  1. लता मंगेशकर

    स्वर कोकिला के नाम से जानी जाने वालीं भारत रत्न से सम्मानित लता मंगेशकर का जन्म 28 सितम्बर 1929 को इंदौर, मध्यप्रदेश में हुआ था। वे भारत की सबसे लोकप्रिय और आदरणीय गायिका हैं। उन्होंने स्वयं को पूरी तरह संगीत को समर्पित कर दिया है इसीलिए आजतक उन्होंने शादी नहीं की है। 6 दशकों के कार्यकाल में लता मंगेशकर ने 20 भाषाओं में 30,000 से अधिक गाने गाए हैं। अपनी बहन आशा भोंसले के साथ लता जी का फ़िल्मी गायन में सबसे बड़ा योगदान रहा है। सन 1974 में दुनिया में सबसे अधिक गीत गाने का ‘गिनीज़ बुक रिकॉर्ड’ उनके नाम पर दर्ज है।

    इनके कुछ बेहतरीन गीत –

    • प्यार किया तो डरना क्या – फिल्म : मुगल- ए-आज़म
    • अजीब दास्तां है ये – फिल्म : दिलअपनाप्रीतपराई
    • आज फिर जीने की तमन्ना है – फिल्म : गाइड
    • होठों पे ऐसी बात – फिल्म : ज्वेलथीफ
    • सत्यम शिवम्सुंदरम – फिल्म : सत्यमशिवम्सुंदरम

    Read More

    36 Votes
  2. अलका यागनिक

    अपनी सुरीली आवाज से जादू बिखेरने वाली अलका यागनिक भारतीय सिनेमा की एक प्रसिद्ध पार्श्वगायिका, का जन्म 20 मार्च 1966 पश्चिम बंगाल, भारत में हुआ। घर में संगीत का माहौल होने के कारण अलका की रूचि संगीत की ओर हो गई और उन्होंने अपने करियर की शुरूआत महज 6 साल की उम्र में कोलकाता आकाशवाणी से कर दी थी। अलका अब तक लगभग 600 फिल्मों के लिए लगभग 20,000 गीत गा चुकी हैं। वे आज भी फिल्म और संगीत जगत को अपनी दिलकश आवाज के जरिए सुशोभित कर रही हैं। उन्हें फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ पार्श्व गायिका पुरस्कार के 36 नामांकनों में से 7 बार पुरस्कार मिल चुका है। उन्हें दो राष्ट्रीय पुरस्कार भी प्राप्त हैं।

    इनके कुछ बेहतरीन गीत-

    • कुछ कुछ होता है – फिल्म कुछ कुछ होता है
    • पूछो ज़रा पूछो – फिल्म राजा हिंदुस्तानी
    • चाँद छुपा बादल में – फिल्म हम दिल दे चुके सनम
    • बाज़ीगर ओ बाज़ीगर – फिल्म बाज़ीगर
    • टिप टिप बरसा पानी – फिल्म मोहरा

    Read More

    29 Votes
  3. आशा भोंसले

    हिन्दी फ़िल्मों की मशहूर प्लेबैक सिंगर आशा भोंसले जिनको हम सब आशा जी और आशा ताई के नाम से बुलाते हैं, का जन्म 8 सितम्बर 1933 को  महाराष्ट्र के ‘सांगली’ में हुआ। इनके पिता दीनानाथ मंगेसकर प्रसिद्ध गायक एवं नायक थे। उनके पिता बेहद छोटी उम्र से ही संगीत की शिक्षा देना शुरू कर दिया था। आशाजी ने अपना करियर 1943 में शुरू किया था और वे छह दशकों से गाती आ रहीं हैं। आशाजी ने बॉलीवुड की करीब एक हजार फिल्मों में गाने गाए हैं। उनकी विशेषता है कि इन्होंने शास्त्रीय संगीत, गजल और पॉप संगीत हर क्षेत्र में अपनी आवाज़ का जादू बिखेरा है। उन्होंने अब तक के अपने फ़िल्मी सफर में लगभग 16000 गानों में अपनी आवाज दी है। वह सिर्फ हिंदी में नहीं बल्कि मराठी, बंगाली, गुजराती, पंजाबी, तमिल, मलयालम, अंग्रेजी और रूसी भाषायोँ में गाने गातीं हैं। 2011 में आशाजी को सबसे ज्यादा गाने रिकॉर्ड करने के लिए गिनीस बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड्स ने चुना। भारतीय सरकार द्वारा आशाजी को सन 2000 में “दादा साहेब फाल्के अवार्ड”और 2008 में “पद्म विभूषण”से सम्मानित किया।

    इनके कुछ बेहतरीन गीत

    • पिया तू अब तो आजा- फिल्म कारवां
    • हंगामा हो गया- फिल्म अनहोनी
    • चुरा लिया है तुमने जो दिल को – फिल्म यादों की बारात
    • दुनिया में लोगो को- फिल्म अपना देश
    • हरे राम हरे कृष्णा – फिल्म दम मारो दम

    Read More

    26 Votes
  4. नेहा कक्कड़

    नेहा कक्कड़ एक भारतीय पार्श्व गायिका, का जन्म 6 जून 1988 को उत्तराखंड में हुआ है। इन्होंने  कई बॉलीवुड फिल्मों में गाने गए हैं। जब नेहा 4 साल की थी तब से वो संगीत से जुड़ी हुई हैं। 2006 में इन्होंने भारतीय टेलीविज़न शो “इंडियन आइडल सीजन 2” में हिस्सा लिया था। बॉलीवुड में इनको सेल्फी क्वीन के नाम से भी बुलाते हैं। गानों के अलावा इनको डांसिंग और मॉडलिंग का भी शौक है और इन्होंने अभी तक लगभग 1000 से भी ज्यादा लाइव शो किये हैं। नेहा के भाई टोनी कक्कड़ भी बॉलीवुड संगीतकार हैं।

    इनके कुछ बेहतरीन गीत-

    • मिले हो तुम हमको – फिल्म फीवर
    • माही वे – फिल्म वजह तुम हो
    • काला चस्मा – फिल्म बार बार देखो
    • आओ राजा – फिल्म गब्बर इस बैक
    • कर गई चुल्ल – फिल्म कपूर एंड संस

    Read More

    25 Votes
  5. श्रेया घोषाल

    सुरीली आवाज की मल्लिका श्रेया घोषाल एक भारतीय पार्श्व गायिका हैं। इनका जन्म 12 मार्च 1984 को पश्चिम बंगाल, भारत में हुआ था। श्रेया की माँ उनकी गुरु हैं वे घर में बंगाली गाने गाया करती थीं, उन्होंने ही श्रेया को संगीत का पहला अर्थ समझाया। चार साल की उम्र से अपनी मां के साथ संगीत सीखना शुरू कर दिया था। श्रेया घोषाल ने हिंदी, तमिल, तेलगु, मलयालम, बंगाली, कन्नड, गुजराती, मराठी और भोजपुरी भाषाओं के गीतों को अपनी आवाज दी है। फिल्म देवदास में गायन के लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ गायिका का फिल्मफेयर पुरस्कार मिला।

    इनके कुछ बेहतरीन गीत-

    • सुन रहा है ना तू – फिल्म आशिकी 2
    • जादू है नशा है – फिल्म जिस्म
    • अगर तुम मिल जाओ – फिल्म ज़हर
    • दीवानी मस्तानी – फिल्म बाजीराव मस्तानी
    • कैसे मुझे तुम मिल गए – फिल्म गजिनी

    Read More

    21 Votes
  6. सोना महापात्रा

    सोना महापात्रा का जन्म 17 जून 1978 को कटक, ओडिशा में हुआ। सोना महापात्रा एक भारतीय पार्श्व गायिका, संगीतकार हैं। सोना महापात्रा मुख्य रूप से भारत में चर्चित हैं। इन्होंने दुनिया भर के अनेक संगीत समारोहों में प्रदर्शन किया गया है और एलबम, संगीत वीडियो, बॉलीवुड फिल्मों और विज्ञापनों में काम किया है। इन्होंने  फिल्म डेली-बेली के “बेदर्दी राजा” गाने में अपनी आवाज दी, जो दर्शकों को बेहद पसंद आई। उसके बाद इन्होंने  फुकरे में “अम्बरसरिया” गाने में  अपनी आवाज दी, जिसे युवा लोगों ने बहुत पसंद किया।

    इनके कुछ बेहतरीन गीत-

    • बेदर्दी राजा – फिल्म डेली-बेली
    • अम्बरसरिया – फिल्म फुकरे
    • जिया लागे ना – फिल्म तलाश
    • इश्क़ करेंगें – फिल्म बैंगिस्तान
    • बहारा बहारा – फिल्म आई हेट लव स्टोरीज

    Read More

    20 Votes
  7. उषा उथुप

    अपनी दमदार आवाज़ के लिए मशहूर 8 नवम्बर 1947 को मुंबई में जन्मीं उषा सन 1960 से फ़िल्मी, पॉप और प्लेबैक सिंगिंग करती हैं | 2012 में उन्हें सात खून माफ़ फिल्म के लिए फिल्मफेयर पुरुस्कार से नवाज़ा गया | हिंदी, तमिल, तेलुगु, मलयालम भाषाओँ में गाना गाने वाली उषा नौ वर्ष की उम्र से पब्लिक सिंगिंग एक्सपीरियंस कर चुकी थीं तथा इन्होने शुरूआती दौर में चेन्नई में नाईटक्लब्स में गाने गए | 1968 में इन्होने "Jambalaya" और "Greenback Dollars" दो अंग्रेजी पॉप सोंग्स भी गाये | सत्तर और अस्सी के दसाहक में इन्होने आर डी बर्मन साहब और बप्पी लाहिरी के लिए भी इन्होने गाने गाये |

    इनके कुछ बेहतरीन गीत

    • चलो चलो - फिल्म रॉक ओन 2
    • आमी सोच्ची बोलती - फिल्म कहानी
    • है ये माया - फिल्म डॉन 2
    • डार्लिंग - फिल्म सात खून माफ़



    Read More

    18 Votes
  8. कनिका कपूर

    कनिका कपूर का जन्म 23 मार्च 1978 को लखनऊ में हुआ। वो बॉलीवुड, पंजाबी तथा सूफी लोकगीतों की एक नवीनतम पार्श्व गायिका हैं। कनिका ने अपना पहला संगीत विडियो 2012 में रिलीज़ किया था जिसका नाम जुगनी जी था। इन्होंने अपना करियर हिन्दी संगीत में 2012 में शुरू किया। इनका “बेबी डॉल” नामक गाना बहुत प्रसिद्ध हुआ। इसके बाद 2015 में आई फिल्म रॉय में इनका गाया हुआ गाना “चिट्टियां कलाइयां” भी काफ़ी मशहूर हुआ।

    इनके कुछ बेहतरीन गीत-

    • देसी लुक – फिल्म एक पहेली लीला
    • डा डा डसे – फिल्म उड़ता पंजाब
    • बीट पे बूटी – फिल्म ए फ्लाइंग जट
    • छिल गए नैना – फिल्म एन एच 10
    • बेबी डॉल – फिल्म रागिनी एमएमएस 2

    Read More

    16 Votes
  9. नीति मोहन

    नीति मोहन, एक भारतीय पार्श्वगायिका का जन्म 17 फ़रवरी 1979 को नई दिल्ली, भारत में हुआ। गाना गाने के अलावा वे कई फिल्मों में अभिनय भी कर चुकी हैं। उनकी दो बहनें हैं और दोनों ही फिल्म अभिनेत्री हैं। नीति मोहन ने अपने करियर की शुरुआत फिल्म स्टूडेंट ऑफ़ द ईयर के “इश्क़ वाला लव” गाने से की थी। ये गाना निति मोहन के अब तक के करियर का सबसे सफल गाना है। उसके बाद नीति ने फिल्म जब तक है जान के लिए “जिया रे” गाना गाया। यह गाना भी 2012 में सुपरहिट साबित हुआ था। साल 2014 में नीति ने कई हिट गाने गए जिसके लिए उन्हें अवार्ड्स के लिए नामंकित किया।

    इनके कुछ बेहतरीन गीत-

    • खींच मेरी फोटो – फिल्म सनम तेरी कसम
    • सड्डी गली आजा – फिल्म नौटंकी साला
    • मनवा लागे – फिल्म हैप्पी न्यू ईयर
    • तूने मारी एन्ट्रियां – फिल्म गुंडे
    • कश्मीर मैं तू कन्याकुमारी – फिल्म चेन्नई एक्सप्रेस

    Read More

    14 Votes
  10. पलक मुच्छल

    पलक मुच्छल का जन्म 30 मार्च 1992 को मध्य प्रदेश, भारत में हुआ। पलक को संगीत का शौक बचपन से ही था इसीलिए उन्होंने महज चार साल की उम्र से ही गाना शुरू कर दिया था। वो हिन्दुस्तानी शास्त्रीय संगीत के साथ ही 17 भाषायोँ में पूर्ण रूप से पारंगत हैं। पलक नें अपनी हिंदी फ़िल्मी करियर की शुरुआत साल 2011 में फिल्म दमादम से की। पलक को हिंदी सिनेमा में कामयाबी फिल्म “एक था टाइगर” और “आशिकी 2” से मिली। इसके अलावा जब वह महज पांच साल की थी तब से वो सामाजिक योगदान में भी सक्रिय हैं।

    इनके कुछ बेहतरीन गीत-

    • चाहूँ मैं या ना – फिल्म आशिकी 2
    • कौन तुझे – फिल्म एम एस धोनी
    • काबिल हूँ या – फिल्म काबिल
    • तेरी मेरी कहानी – फिल्म गब्बर इज बैक
    • मैं लापता – एक था टाइगर

    Read More

    11 Votes
  11. सुनिधि चौहान

    हिन्दी गानों के लिए लोकप्रिय एक भारतीय पार्श्वगायिका सुनिधि चौहान का जन्म 14 अगस्त 1983 को नई दिल्ली, भारत में हुआ। उनके बचपन का नाम निधि चौहान है। हर कोई आज उनको जानता है इसलिए वो किसी परिचय का मोहताज नहीं है। उन्होंने हिंदी गानों के साथ-साथ मराठी, कन्नड़, तेलगु, तमिल, पंजाबी, बंगाली, असमी, नेपाली, और उर्दू में भी गाने गाए हैं। इसके अलावा वो एक फैशन आइकॉन भी हैं। उन्होंने साल 2013 में एशिया की टॉप 50 सेक्सिएस्ट लेडीज में भी अपनी जगह बनाई। एक प्लेबैक सिंगर के तौर पर उन्होंने जो मुकाम बनाया है, उसकी जितनी तारीफ की जाये वो कम है। अपने सिंगिंग करियर में सुनिधि ने कई बेहतरीन गानों को अपनी आवाज़ दी है।

    इनके कुछ बेहतरीन गीत-

    • आ ज़रा – फिल्म मर्डर 2
    • कमली – फिल्म धूम 3
    • इश्क़ सूफ़िआना – फिल्म द डर्टी पिक्चर
    • यही होता प्यार है क्या – फिल्म नमस्ते लंदन
    • चांस पे डांस – फिल्म रब ने बना दी जोड़ी

    Read More

    9 Votes
अगर आपको इस सूची में कोई भी कमी दिखती है अथवा आप कोई नयी प्रविष्टि इस सूची में जोड़ना चाहते हैं तो कृपया नीचे दिए गए कमेन्ट बॉक्स में जरूर लिखें |