10 भारतीय रहस्यमयी मर्डर केस

कहते है न कि हत्यारा सबसे बड़ा अपराधी होता है और जो अपराध करता है वो कुछ न कुछ सबूत अपने पीछे छोड़ ही जाता है, लेकिन कई बार लोग अपने इरादों को इतनी चालाकी से अंजाम देते है की उनकी शिनाख्त करना नामुमकिन सा बन जाता है| हमारे देश में एक-दो नही कई बार ऐसे हत्याकांड हुए हैं जिन्होंने की सभी को झकझोर के रख दिया और काफी पुरजोर कोशिशो के बावज़ूद भी कोई अंतिम निष्कर्ष नही निकला | ये हत्याकांड आज तक रहस्य बने हुए है|

किसी के साथ हुआ हुआ जघन्य अपराध हमें भीतर तक हिला देता है। जब भी कोई क्रूरता का शिकार होता है और उसकी हत्या हो जाती है तो हर कोई जानना चाहता है कि आखिर ऐसा जघन्य अपराध किसने किया होगा। भारत में भी ऐसी कई ऐसी हत्याएं हुई हैं जिन्होंने देश को झकझोर कर रख दिया है और अब तक, उनके अपराधी पकड़े नहीं गए हैं। वाकई, ऐसे मामलों को कोई नहीं भूलता और सब सोचते हैं आखिर अपराधी है कौन। ऐसे मामलें कई अनसुलझे सवालों से भरे होतें हैं। यहां, ऐसे ही कुछ अनसुलझी हत्याओं को सूचीबद्ध किया गया है। हालांकि कुछ मामलों में कोर्ट ने फैसला सुना दिया है, लेकिन आम जनता को अभी भी लगता है कि कुछ सवालों के जवाब अभी भी नहीं मिलें हैं। आइये ऐसे ही कुछ मर्डर मिस्ट्रीज़ के बारे में जानते हैं।


आरुषि हेमराज हत्याकाण्ड 2

16 मई 2008 को चौदह वर्षीय आरुशी का मृत शरीर उसके कमरे से बरामद किया गया | उसके अगले दिन मुख्य आरोपी माने जा रहे नौकर हेमराज का शव भी घर की छत पर मिला, इसके बाद आरुशी के माता पिता पर दोनों की हत्या का केस चलाया गय... अधिक पढ़ें

स्टोनमैन मर्डर्स 3

1989  में एक सीरियल किलर द्वारा कलकत्ता में लगभग 6 महीनो में 13 लोगों की (जून 1989 में पहला) पत्थर द्वारा नृशंस हत्या कर दी गयी | कोई भी व्यक्ति आज तक इसके आरोप में नही पकड़ा गया है और एक रहस्यमयी हत्याकांड के रूप में यह के... अधिक पढ़ें

चंद्रशेखर प्रसाद हत्याकाण्ड 4

JNU के छात्र और एक बड़े नेता के रूप में उभर रहे चंद्रशेखर प्रसाद की 31 मार्च 1997 को दिनदहाडे कुछ बन्दूकधारी हमलावरों ने हत्या कर दी | किसी भी व्यक्ति को इस केस के सम्बन्ध में गिरफ्तार नही किया गया | कुछ लोगो का मानना है कि इसके पीछे किसी बड़ी राजनैतिक पार्टी का हाथ था |

ललित नारायण मिश्र पर हमला 5

1973-75 के दौरान भारत के रेलमंत्री रहे ललित नारायण मिश्रा की 1975 में समस्तीपुर रेलवे स्टेशन पर हुए बम धमाके में मौत हो गयी | लगभग 40 साल तक चले इस केस में CBI द्वारा कोई ठोस सबूत पेश नहीं कीये जाने के कारण मुल्ज़िमों को रिहा कर दिया गया |

शीना बोरा हत्याकाण्ड 6

शीना बोरा के लापता होने के तीन साल बाद उसकी बहन इन्द्राणी मुखर्जी ( जोकि बाद में पता चला कि शीना की माँ थी ) को शीना की हत्या के जुर्म में गिरफ्तार किया गया | इसका खुलासा शीना के भाई मिखाइल ने किया | इन्द्राणी , उसका प... अधिक पढ़ें

रिजवानुर रहमान मर्डर केस 7

एक मिडल क्लास कंप्यूटर ट्रेनर रिजवानुर रहमान ने जाने माने इंडस्ट्रियल अशोक टोड़ी की बेटी से प्यार करने के बाद शादी की |  2007 में कोलकाता में रेलवे ट्रेक के पास इनकी लाश बरामद हुई , जिसे कि पुलिस द्वारा आत्... अधिक पढ़ें

श्री लाल बहादुर शास्त्री जी का निधन 8

भारत के भूतपूर्व प्रधानमंत्री श्री लाल बहादुर शास्त्री जी का ताशकंद (रूस) में निधन हो गया | इसके सम्बन्ध में कोई पोस्टमार्टम रिपोर्ट नही आई लेकिन उनकी मृत्यु का कारण पॉइजनिंग बताया जाता है | मशहूर जर्नलिस्ट ... अधिक पढ़ें

सुनंदा पुष्कर की मृत्यु 9

ट्विटर पर पाकिस्तानी महिला पत्रकार मेहर से वाद-विवाद होने के एक दिन बाद केन्द्रीय मंत्री शशि थरूर कि पत्नी का शव लीला पैलेस होटल से बरामद हुआ | शुरूआती रिपोर्ट्स केअनुसार इसे आत्महत्या का केस बताया गया जबकि AIMS के ... अधिक पढ़ें

राजीव दीक्षित जी का आकस्मिक निधन 10

राजीव दीक्षित जी से कौन परिचित नहीं है ? भारत में स्वदेशी आन्दोलन को बढ़ावा और आजादी बचाओ आन्दोलन की शुरुआत उन्होंने ही की थी | उन्होंने बड़े पैमाने पर विदेशी कंपनियों और उद्योगों में चल रही गड़बड़ियों को उजागर किया ... अधिक पढ़ें

अमर सिंह चमकीला हत्याकाण्ड 11

संगीत की दुनिया का एक शानदार कलाकार और पंजाब का एक बेहतरीन स्टेज परफोर्मर अमर सिंह चमकीला , उनकी पत्नी और एक अन्य साथी कलाकार की 8 मार्च 1988 को दिनदहाडे बाइकसवार गैंग ने गोलियों से भून दिया | तीनो लोगो ... अधिक पढ़ें

अगर आपको इस सूची में कोई भी कमी दिखती है अथवा आप कोई नयी प्रविष्टि इस सूची में जोड़ना चाहते हैं तो कृपया नीचे दिए गए कमेन्ट बॉक्स में जरूर लिखें |

Keywords:

भारत में प्रसिद्ध और अनसुलझी हत्या के रहस्य अनसुलझी भारतीय हत्या के रहस्य भारत में चौंकाने वाला मर्डर सीक्रेट्स

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. more information

The cookie settings on this website are set to "allow cookies" to give you the best browsing experience possible. If you continue to use this website without changing your cookie settings or you click "Accept" below then you are consenting to this.

Close