हॉन्ग कॉन्ग

हॉङ्ग कॉङ्ग, आधिकारिक तौर पर हॉङ्ग कॉङ्ग विशेष प्रशासनिक क्षेत्र है इसके उत्तर में गुआंग्डोंग और पूर्व, पश्चिम और दक्षिण में दक्षिण चीन सागर मौजूद है। हॉङ्ग कॉङ्ग एक वैश्विक महानगर और अंतरराष्ट्रीय वित्तीय केंद्र होने के साथ-साथ एक उच्च विकसित पूंजीवादी अर्थव्यवस्था है। “एक देश, दो नीति” के अंतर्गत और बुनियादी कानून के अनुसार, इसे सभी क्षेत्रों में “उच्च स्तर की स्वायत्तता” प्राप्त है, केवल विदेशी मामलों और रक्षा को छोड़कर, जो जनवादी गणराज्य चीन सरकार की जिम्मेदारी है। हॉङ्ग कॉङ्ग की अपनी मुद्रा, कानून प्रणाली, राजनीतिक व्यवस्था, अप्रवास पर नियंत्रण, सड़क के नियम हैं और मुख्य भूमि चीन से अलग यहां की रोजमर्रा के जीवन से जुड़े विभिन्न पहलु हैं।
एक व्यापारिक बंदरगाह के रूप में आबाद होने के बाद हॉङ्ग कॉङ्ग 1842 में यूनाइटेड किंगडम का विशेष उपनिवेश बन गया। 1983 में इसे एक ब्रिटिश निर्भर क्षेत्र के रूप में पुनर्वर्गीकृत किया गया। 1997 में जनवादी गणराज्य चीन को संप्रभुता हस्तांतरित कर दी गई। अपने विशाल क्षितिज और गहरे प्राकृतिक बंदरगाह के लिए प्रख्यात, इसकी पहचान एक ऐसे महानगरीय केन्द्र के रूप में बनी जहां के भोजन, सिनेमा, संगीत और परंपराओं में जहां पूर्व में पश्चिम का मिलन होता है। शहर की आबादी 95% हान जाति के और अन्य 5% है। 70 लाख लोगों की आबादी और 1,054 वर्ग किमी (407 वर्ग मील) जमीन के साथ हॉङ्ग कॉङ्ग दुनिया के सबसे घनी आबादी वाले क्षेत्रों में से एक है।

हॉन्ग कॉन्ग के बारे मे अधिक पढ़ें

हॉन्ग कॉन्ग को निम्न सूचियों मे शामिल किया गया है :